पटनाः लालू के ‘लाल’ घूम रहे अस्पताल, PMCH में निरीक्षण के बाद कहा- सरकार डर से नहीं निकल रही

पटनाः आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव के निर्देश के बाद तेज प्रताप एक्शन में आ गए हैं. बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री और विधायक तेज प्रताप यादव सोमवार को बिहार के सबसे बड़े अस्पताल पीएमसीएच में निरीक्षण करने के लिए पहुंचे. यहां आने के बाद उन्होंने स्वास्थ्य व्यवस्था को देखा. इसके बाद कोरोना मरीज के परिजनों से मिलकर उनका हाल जाना और सुविधाओं के बारे में पूछा.

इस दौरान तेज प्रताप यादव ने कहा कि पीएमसीएच सीएम नीतीश कुमार का बेस्ट अस्पताल है, लेकिन यहां क्या सुविधा है वह दिख रहा है. मरीज के परिजन ऐसे ही जमीन पर हैं. जगह नहीं है. लोग सटकर बैठे हैं. ऐसे में किस तरह कोरोना वायरस खत्म होगा और कहते हैं कि यह वर्ल्ड का बेस्ट अस्पताल है. पेशेंट मर रहा है लेकिन परिजन को शव नहीं दिया जा रहा.

सरकार की कमियों को करता रहूंगा उजागर

तेज प्रताप ने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि पीएमसीएच में कोई देखने तक नहीं आ रहा है. कोरोना के डर से ये लोग घर में बैठे हुए हैं. अभी सरकार की जितनी कमियां हैं उन सबको उजागर करता रहूंगा. इस दौरान उन्होंने अस्पातल में लोगों की समस्या सुनकर बेहतर इलाज के लिए भी निर्देश दिया.

कोविड सेंटर की बात पर नीरज कुमार के ट्वीट पर पलटवार करते हुए कहा कि ये लोग  खुद तो कुछ कर नही रहे हैं. इनके मंत्री घरों में दुबके हुए हैं. तेजस्वी के गायब होने की बात पर कहा कि वे कहीं गायब नहीं हैं. पिता जी बीमार हैं तो वहां उनका पुत्र रहेगा या नहीं. जिनकों बाहर निकल कर देखना चाहिए वह दूसरे पर आरोप लगा रहे हैं. मंगल पांडेय इस्तीफा दें या नहीं लेकिन उनको जिम्मेदारी मिली थी हॉस्पिटल में हर चीज की व्यवस्था के लिए लेकिन वह ठीक नहीं हुआ है.

गौरतलब हो कि बीते रविवार को ही तेज प्रताप यादव ने गर्दनीबाग स्थित स्वास्थ्य केंद्र का निरीक्षण किया था. यहां अस्पताल परिसर से 36 सिलेंडर कबाड़ में मिलने की खबर सामने आने के बाद वे यहां पहुंचे थे. इसके बाद यहां उन्होंने सरकार पर जमकर हमला बोला और स्वास्थ्य व्यवस्था की स्थिति देखकर भी कोसा था.

यह भी पढ़ें- 

पटनाः दीदारगंज के रायबाग से युवक का अपहरण, रात में गर्लफ्रेंड से बात करने के बाद गया था मिलने

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*