DU के हंसराज कॉलेज ने दिया हॉस्टल को केविड केयर सेंटर में बदलने का ऑफर, कॉलेज में RT-PCR टेस्टिंग सेंटर भी बना

<p style="text-align: justify;">दिल्ली यूनिवर्सिटी के हंसराज कॉलेज ने अपने हॉस्टल में कोविड-19 रोगियों के लिए 100 बेड की हेल्थ फैसिलिटी सेट-अप करने का ऑफर दिया है. कॉलेज प्रिंसिपल रमा शर्मा ने कहा कि आरटी-पीसीआर टेस्ट सेंटर भी कॉलेज में स्थापित किया गया है जो बुधवार यानी आज से काम करना शुरू कर देगा. गौरतलब है कि दिल्ली विश्वविद्यालय का हंसराज कॉलेज हमेशा जरूरत पड़ने पर आगे आया है और देश के साथ खड़ा रहा है.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>कॉलेज के प्रिंसिपल ने उपराज्यपाल और मुख्यमंत्री को लिखा पत्र</strong></p>
<p style="text-align: justify;">हंसराज कॉलेज में 200 रेजिडेंट्स का एक हॉस्टल है. कॉलेज प्रिंसिपल रमा शर्मा ने दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को एक पत्र लिखकर कहा है कि, &ldquo;हम आपके सपोर्ट के साथ अपने हॉस्टल के स्पेस को 100 आईसीयू फैसिलिटी में परिवर्तित करने का ऑफर दे रहे &nbsp;है क्योंकि कोविड रोगियों को अस्पताल में बेड नहीं मिल रहे हैं और ये काफी चिंताजनक स्थिति है.&rdquo;</p>
<p style="text-align: justify;">पत्र को डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया, स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन और कुछ अन्य अधिकारियों को भी भेजा गया है. प्रिंसिपल ने अधिकारियों से कॉलेज में टीकाकरण केंद्र स्थापित करने का भी आग्रह किया है.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>कॉलेज में वैक्सीनेशन सेंटर बनाने का अनुरोध किया गया है</strong></p>
<p style="text-align: justify;">पत्र में ये भी कहा गया है कि, &ldquo;विश्वविद्यालय के कर्मचारी और उनके परिवार भी चुनौतियों का सामना कर रहे हैं क्योंकि सुविधाएं बिखरी हुई हैं और संक्रमित लोग हर दिन बढ़ रहे हैं. प्रसार को रोकने के लिए टेस्टिंग और वैक्सीनेशन दोनों जरूरी हैं. इसलिए हम आपसे विश्वविद्यालय के टीचिंग और नॉन-टीचिंग स्टाफ के लिए कॉलेज में एक वैक्सीनेशन (कोविशिल्ड) और टेस्टिंग सेंटर स्थापित करने का भी अनुरोध करते हैं.&rdquo;</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>दिन दयाल उपाध्याय कॉलेज में आइसोलेशन सेंटर शुरू किया गया है</strong></p>
<p style="text-align: justify;">बता दें कि दिल्ली विश्वविद्यालय ने दीन दयाल उपाध्याय कॉलेज में 180 बेड की क्षमता वाले कोविड-19 आइसोलेशन सेंटर को शुरू किया है. यूनिवर्सिटी के लक्ष्मीबाई कॉलेज ने भी कोरोनां से जान गंवाने वाले अपने एक कर्मचारी को श्रद्धांजलि के रूप में एक आइसोलेशन केंद्र शुरू किया है.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>डीयू ने अपने स्टाफ के लिए सेंट्रल</strong><strong> हेल्पलाइन</strong><strong> शुरू की है</strong></p>
<p style="text-align: justify;">वहीं दिल्ली विश्वविद्यालय ने अपने कर्मचारियों के लिए सेंट्रल हेल्पलाइन की स्थापना की है जो वेंटिलेटर बेड, ऑक्सीजन सिलेंडर, फूड सप्लाई और यहां तक ​​कि काउंसलिंग भी कर रहा है. यूनिवर्सिटी के कार्यवाहक वाइस-चांसलर प्रोफेसर सी जोशी ने कहा, "हमने पहले एक केंद्रीकृत प्रणाली लागू की थी. पहले यह कॉलेजों और अन्य निकायों द्वारा किया जा रहा था, लेकिन अब हमने हेल्पलाइन की स्थापना की है, जो कि यूनिवर्सिटी कर्मचारियों के लिए उपलब्ध होगी."</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>ये भी पढ़ें</strong></p>
<p style="text-align: justify;"><a href="https://www.abplive.com/education/ias-success-story-the-son-of-a-farmer-from-a-small-village-made-upsc-topper-niketan-bansilal-kadam-with-hard-work-and-dedication-1912715"><strong>IAS Success Story: एक छोटे से गांव का किसान का बेटा कड़ी मेहनत और लगन से ऐसे बना UPSC टॉपर</strong></a></p>
<p style="text-align: justify;"><a href="https://www.abplive.com/education/himachal-pradesh-board-promotes-10th-students-know-the-passing-criteria-1912701"><strong>हिमाचल प्रदेश बोर्ड ने प्रमोट किए 10वीं के स्टूडेंट, जानिए किस आधार पर मिले नंबर</strong></a></p>

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*