Coronavirus: संक्रमण के प्रकोप के बीच भारत को मिल रही विदेशी मदद, इंडोनेशिया से पहुंचे 200 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स

नई दिल्लीः देश में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर चल रही है. ऐसे में भारत को विदेशों से काफी मदद मिल रही है. वहीं इन सभी के बीच भारतीय वायुसेना लगातार विदेशों से ऑक्सीजन कंटनेर‌ एयरलिफ्ट करने में जुटी हुई है. पिछले दो हफ्तों से वायुसेना के एयरक्राफ्ट्स देश-विदेश से क्रायोजैनिक ऑक्सीजन कंटनेर से लेकर सिलेंडर और दूसरे जरूरी मेडिकल उपकरण एयरलिफ्ट कर रहे हैं.

200 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स पहुंचे भारत

विदेशी मदद के बीच इंडोनेशिया से 200 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स की एक खेप गुरुवार तड़के दिल्ली एयरपोर्ट पहुंची. विदेश मंत्रालय (एमईए) के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है. उन्होंने ट्वीट कर लिखा “हमारे पुराने संबंधों को और मजबूत करते हुए पड़ोसी इंडोनेशिया से 200 ऑक्सीजन सांद्रता का स्वागत है.”

भारतीय वायु सेना का अभियान

भारतीय वायु सेना (IAF) ने पहले इंडोनेशिया के जकार्ता से चार क्रायोजेनिक ऑक्सीजन कंटेनरों को एयरलिफ्ट किया था. इस बीच, फ्रांस के राजदूत इमैनुएल लेनिन ने बताया कि 40 टन ऑक्सीजन की दूसरी खेप बुधवार को भारत पहुंची थी. लेनिन ने एक ट्वीट में कहा, “40 टन ऑक्सीजन की दूसरी खेप, फ्रांस के एयर लिक्विड ग्रुप द्वारा दान की गई. जिसके लिए भारतीय नौसेना के फ्रिगेट आईएनएस तारकेश को धन्यवाद.”

बता दें कि, कोरोना के खिलाफ जंग लड़ने में सेना के तीनों अंग यानि थलसेना, वायुसेना और नौसेना युद्धस्तर पर जुटे हुए हैं. खुद प्रधानमंत्री ने कोरोना के खिलाफ जंग में सशस्त्र सेनाओं की भूमिका की प्रशंसा की है. पीएम ने ट्वीट कर कहा कि जल, थल और नभ में हमारे सशस्त्र-बलों ने कोविड के खिलाफ के जंग में मजबूती प्रदान करने में कोई कसर नहीं छोड़ी है.

 

इसे भी पढ़ेंः
कोरोना संकट: PM मोदी की उच्च स्तरीय बैठक, ऑक्सीजन-रेमडेसिवर की उपलब्धता समेत कई चीजों पर हुई समीक्षा

 

झारखंड में दो हफ्तों के लिए बढ़ा लॉकडाउन, बसें नहीं चलेंगी और विवाह में सिर्फ 11 लोग हो सकेंगे शामिल

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*