एडमिरल करमबीर सिंह ने कहा- अभूतपूर्व चुनौती का समाना कर रहा है देश, संकट की घड़ी में देशवासियों के साथ नौसेना

नई दिल्लीः कोरोना संकट आजादी के बाद पहली सबसे बड़ी और अभूतपूर्व मानवीय चुनौती है जो हमारा देश झेल रहा है. लेकिन नौसेना को इस संकट की घड़ी में देशवासियों का साथ देना है. ये कहना है नौसेना प्रमुख एडमिरल करमबीर सिंह का.

नौसेना प्रमुख के मुताबिक, देश का शायद ही कोई ऐसा परिवार होगा जो इस कोरोना संकट से अछूता रहा होगा. लेकिन क्योंकि देश ने हमें फ्रंटलाइन वर्कर मानते हुए हमारा टीकाकरण किया गया है, जिसके चलते नौसेना के 80 प्रतिशत नौसैनिकों को दोनों कोरोना वैक्सीन लग चुकी हैं.

ऐसे में एडमिरल करमबीर सिंह के मुताबिक, ये वक्त है कि जो हमें देश ने दिया है उसे वापस लौटने का समय है. नौसेना प्रमुख ने ये संदेश देश के सभी नौसैनिक और पूर्व-नौसैनिकों को दिया.

मदद के लिए कोविड हॉस्पिटल और केयर सेंटर स्थापित

एडमिरल करमबीर सिंह के मुताबिक, हमें इस महामारी के दौरान दो तरह से देश की मदद करनी है. पहला है समुद्र-सेतु ऑपरेशन के जरिए, जिसमें नौसेना के वॉरशिप (युद्धपोत) विदेशों से लिक्विड ऑक्सीजन कंटनेर और कोविड से जुड़ी सहायता लेकर आ रहे हैं.

नौसेना प्रमुख के मुताबिक, दूसरी प्राथमिकता राज्यों सरकारों की मदद के लिए कोविड हॉस्पिटल और केयर सेंटर स्थापित करना है. इसके अलावा देश के दूर-दराज के आईलैंड्स से कोरोना से ग्रस्त मरीजों को मैनलैंड लेकर आना है. साथ ही नौसेना के डॉक्टर्स, पैरा-मेडिकल स्टाफ और बैटल-फील्ड असिस्टेंट्स को कोविड हॉस्पिटल्स में तैनात करना है.  

एडमिरल के मुताबिक, आने वाले समय में ये महामारी गांव तक पहुंचने वाली है. ऐसे में हमारे समुद्री-तट से सटे नेवल-बेस इन गांवों को गोद लेकर उनकी हर संभव प्रयास करें. इसके अलावा, उनके मुताबिक, हमें अपने परिवार और पूर्व-नौसैनिकों की पूरी हिफाजत करनी है. एडमिरल ने कहा कि परिवारों की वैक्सीनेशन की कोशिशें भी की जा रही हैं.   

मेजर जनरल एसके सिंह अब बेस ह़ॉस्पिटल के नए कमांडेंट

इस बीच खबर है कि राजधानी दिल्ली स्थित सेना के बेस हॉस्पिटल के कमांडेंट का तबादला कर दिया गया है. कमांडेंट, मेजर जनरल वासु वर्धन का तबादला दिल्ली के ही आरएंडआर यानि रिर्सच एंड रेफरेल हॉस्पिटल कर दिया गया है. लेकिन सेना के सूत्रों ने उन अफवाहों का पूरी तरह खंड किया है जिसमें कहा गया है कि मेजर जनरल वर्धन का तबादला उनके द्वारा रक्षा मंत्रालय के मनमानें आदेशों का पालन ना करने की वजह से हुआ है.

सूत्रों के मुताबिक, कमांडेंट ने अपना 18 महीने का कार्यकाल पूरा कर लिया था. इसी लिए ह्यूमन रिसोर्स मैनेजमेंट के हायर प्लान के लिए उनका तबादला किया गया है. मेजर जनरल एसके सिंह अब बेस ह़ॉस्पिटल के नए कमांडेंट होंगे जो इससे पहले लखनऊ में तैनात थे.

कोरोना संक्रमितों के मामले में भारत कहां पर है, जानिए टॉप-5 राज्य जहां सबसे ज्यादा कहर

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*