उन्नाव में 14 स्वास्थ्य केंद्रों के प्रभारियों ने दिया सामूहिक इस्तीफा, हैरान करने वाली है वजह

<p style="text-align: justify;"><strong>उन्नाव.</strong> यूपी के उन्नाव जिलों में प्रांतीय चिकित्सा सेवा संघ से जुड़े 14 डॉक्टरों ने सामूहिक रूप से इस्तीफा दे दिया है. इन डॉक्टरों ने सीमित संसाधनों में काम करने के बावजूद प्रशासनिक अधिकारियों पर अभद्रता और शोषण का आरोप लगाया है. ये डॉक्टर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (सीएचसी) और प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र (पीएचसी) के प्रभारी हैं. उन्होंने भरोसा दिलाया है कि वे जिलाधिकारी और मुख्य चिकित्साधिकारी से वार्ता होने तक कोरोना संबंधित कार्यो में कोई बाधा नही डालेंगे.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>सीएमओ कार्यालय पहुंचकर दिया इस्तीफा</strong><br />बुधवार शाम प्रांतीय चिकित्सा सेवा संघ (पीएमएस) के सचिव डॉ संजीव के नेतृत्व में 14 सीएचसी और पीएचसी के प्रभारियों ने सीएमओ कार्यालय पहुंचकर अपने प्रभारी पद से मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) की अनुपस्थित में अपर मुख्य चिकित्साधिकारी (एसीएमओ) डॉ तन्&zwj;मय कक्&zwj;कड़ को इस्&zwj;तीफा सौंपकर गंभीर आरोप लगाए थे. इन लोगों ने इस्तीफे की कॉपी अपर मुख्य सचिव (स्वास्थ्य), महानिदेशक (स्वास्थ्य), अपर निदेशक चिकित्सा एवं स्वास्थ्य के साथ ही जिलाधिकारी (डीएम) को भी भेजी है.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>अधिकारियों पर गंभीर आरोप</strong><br />सामूहिक इस्&zwj;तीफा देने वाले चिकित्सकों का आरोप है कि कोरोना वायरस के काल में विपरीत परिस्थितियों में काम करने के बावजूद मानसिक और आर्थिक प्रताड़ना के साथ अधिकारी बेवजह कार्रवाई कर दबाव बना कर अभद्रता करते हैं.</p>
<p style="text-align: justify;">उन्होंने अधिकारियों पर बेवजह दबाव बनाने का आरोप लगाते हुये कहा कि डॉक्टरों का वेतन आदि रोककर आर्थिक शोषण किया जा रहा है. इस्&zwj;तीफे की कॉपी में आरोप लगाया गया है कि प्रशासनिक अधिकारियों के दंडात्मक आदेश, अमर्यादित व्यवहार और स्वास्थ्य विभाग के उच्चाधिकारियों के असहयोगात्मक रवैये के कारण प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों के विरुद्ध बिना आरोप पत्र दिए व स्पष्टीकरण मांगे दंडात्मक कार्रवाई की जा रही है.</p>
<p style="text-align: justify;">डॉ संजीव ने बताया, &ldquo;यह लड़ाई प्रांतीय चिकित्सा सेवा संघ (पीएमएस) के बैनर तले नहीं लड़ी जायेगी. यह लड़ाई हम प्रभारियों की है, जिसे हम सभी मिलकर लड़ रहे हैं.&rdquo;</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>सीएमओ ने दी सफाई</strong><br />उधर, सीएमओ डॉ आशुतोष कुमार ने बताया कि सभी सीएचसी और पीएचसी के प्रभारी काम पर वापस आ गये हैं और अभद्रता करने के आरोप गलत है. उन्होंने कहा, &ldquo;इस तरह की बातें हम नहीं करते हैं, आगे हम सब मिलकर काम करेंगे.&rdquo;</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>ये भी पढ़ें:</strong></p>
<h4 class="article-title"><a href="https://www.abplive.com/states/up-uk/up-health-minister-jai-pratap-singh-remarks-over-less-testing-number-allegations-1913526">यूपी में टेस्टिंग की कम संख्या से आई कोरोना संक्रमितों में कमी? जानिए क्या बोले स्वास्थ्य मंत्री</a></h4>
<h4 class="article-title"><a href="https://www.abplive.com/states/up-uk/cm-yogi-adityanath-to-visit-three-district-to-look-covid-arrangements-1913345">Coronavirus in UP: सीएम योगी ने संभाला मोर्चा, कोविड व्यवस्थाओं का जायजा लेने पहुंचे अलीगढ़</a></h4>

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*