भारत में लोगों को वैक्सीन नहीं, अमेरिका ने बुस्टर डोज की प्लानिंग शुरू की

अमेरिका में कोरोना वायरस मामलों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है. ऐसे में अमरीकी सरकार अब एक बूस्टर वैक्सीन बनाने की योजना बना रही है. वैज्ञानिकों ने मंगलवार को कहा कि महामारी के खिलाफ लड़ाई लंबी हो सकती है. ऐसे में बूस्टर डोज की प्लानिंग अभी से शुरू करने की जरूरत है. वैज्ञानिकों ने कहा कि कोरोना वायरस धीरे धीरे जानलेवा होता जा रहा है. इसलिए हमें वैक्सीन बनाने का काम जारी रखना चाहिए. साथ ही साथ कहा, “इस समय यदि हम ध्यान नहीं देंगे तो आगे चलकर हमें भारी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है.”

इस समय भारत में वैक्सीन की भारी कमी देखी जा रही है. कई राज्य केंद्र सरकार से पर्याप्त मात्रा में वैक्सीन देने की मांग कर रहे हैं. इस समय भारत में केवल दो कंपनियां ऐसी हैं, जो वैक्सीन बनाने का काम कर रही हैं.ऐसे में कई राज्य की सरकारों ने केंद्र से अन्य विकल्प तलाशने की भी मांग की है. वहीं, अमेरिका में कोरोना वैक्सीन देने की मुहिम तेज गति से आगे बढ़ रही है.अमेरिका में अबतक कुल आबादी के 35 फीसदी लोगों को वैक्सीन दी जा चुकी है. जहां भारत में लोगों को वैक्सीन नहीं मिल रही है, वहीं अमेरिका बुस्टर डोज की प्लानिंग शुरू कर रहा है. ऐसे में भारत सरकार के सामने कई सवाल खड़े हो रहे हैं.

रोग विशेषज्ञ डॉ एंथनी फाउची ने कही ये बात 

इससे पहले अमेरिका के शीर्ष संक्रामक रोग विशेषज्ञ डॉ एंथनी फाउची ने सांसदों से कहा कि भारत ने गलत धारणा बनाई कि वहां कोविड-19 वैश्विक महामारी का प्रकोप समाप्त हो गया है और समय से पहले लॉकडाउन खोल दिया, जिसकी वजह से वहां कोरोना के मामलों में तेजी से इजाफा हो रहा है. फाउच ने सीनेट की स्वास्थ्य, शिक्षा, श्रम एवं पेंशन समिति से कहा, “भारत अभी जिस गंभीर संकट में है उसकी वजह यह है कि वहां असल में मामले बढ़ रहे थे और उन्होंने गलत धारणा बनाई कि वहां यह समाप्त हो गया है और हुआ क्या, उन्होंने समय से पहले सब खोल दिया और अब ऐसा चरम वहां देखने को मिल रहा है जिससे हम सब अवगत है किं वह कितना विनाशकारी है.”

ये भी पढ़ें :-

सोनिया गांधी और पवार समेत 12 दलों के नेताओं की PM मोदी को चिट्ठी, मुफ्त वैक्सीनेशन, सेंट्रल विस्टा, पीएम केयर्स को लेकर की ये मांग

अगले कुछ महीनों में 6-7 गुना वैक्सीन का उत्पादन बढ़ाने जा रही Bharat Biotech, सितंबर तक तैयार होने लगेगा 10 करोड़ डोज

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*