Health Tips: क्या आप जानते हैं आपके किचन में ये चंद फूड्स कभी नहीं एक्सपायर होते हैं?

जब कभी एक्सपायरी डेट के पहुंचने पर फूड्स को फेंकना पड़ता है, हमारा दिल टूट जाता है. एक्सपायरी डेट पैकेट पर प्रिंट किया हुआ होता है. ये बताने के लिए फूड को कब तक खाया जा सकता है. हमारे लिए एक्सपायरी डेट के बाद फूड का खाना असुरक्षित हो जाता है. लेकिन क्या आप जानते हैं कुछ फूड्स एक्सपायरी डेट तक पहुंचने के बाद भी खाने के योग्य होते हैं? जी हां, कुछ ऐसे फूड्स हैं जिसे आप उसकी सीमा पार करने के बाद भी रख सकते हैं.

नमक- हमारे किचन में इस्तेमाल की जानेवाली आम सामग्रियों में से नमक एक है. क्या आप जानते हैं नमक फूड संरक्षक के तौर पर इस्तेमाल किया जाता है? ये फूड्स को डिहाइड्रेट रखने में इतना ज्यादा मदद करता है कि उसे लंबे समय तक संग्रहित किया जा सकता है. पुराना नियमित नमक कभी खराब नहीं होता है. लेकिन जिस नमक में कुछ घटक जैसे आयोडीन को मिला दिया जाए, तो उसकी आयु संक्षिप्त हो जाती है.

शहद- शहद की लंबी अवधि में कई फैक्टर का योगदान होता है. शहद की नमी का स्तर कम होता है. उसके अलावा, ये बैक्टीरिया को डिहाइड्रेट करता है जिसके चलते ये अपना संरक्षक खुद बन जाता है. यहां बात हो रही है कच्चे शहद के बारे में ना कि उस शहद की जिसमें अन्य घटक मिले होते हैं.

व्हाइट राइस- अगर उसे उचित तरीके से वायु रोधक कंटेनर में नमी और ताप से दूर संग्रहित किया जाए, तो व्हाइट राइस हमेशा के लिए अच्छा ठहरता है. व्हाइट राइस में ऑयल की मात्रा कम होती है जो उसे लंबे समय तक सुरक्षित रखने में योगदान देता है.

शुगर- हम इस सामग्री के बिना अपने किचन की कल्पना भी नहीं कर सकते हैं. शुगर को लंबे समय तक संग्रहित किया जा सकता है लेकिन एक शर्त पर. उसे हमेशा नमी और गर्मी से दूर रखा जाना चाहिए. वक्त गुजरने पर भले आपको शुगर की बनावट में बदलाव दिखे, लेकिन ये पूरी तरह एक्सपायर नहीं होगा.

नूडल्स/पास्ता- अगर आपका पास्ता सूखा हो या नूडल्स की तैयारी में रिफाइन आटा या मैदा का इस्तेमाल किया गया है, तो ये हमेशा के लिए ठहर सकता है.

काला नमक में हैं स्वास्थ्य के हैरतअंगेज फायदे, उसका एक चुटकी अपनी डाइट में करें शामिल

डॉक्टर दंपति की अनोखी पहल, कोविड-19 की दवाइयां इकट्ठा करने को बनाया मिशन

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*