जम्मू में कोरोना वैक्सीन की कमी, टीकाकरण केंद्रों पर लटका ताला

जम्मूः जम्मू कश्मीर में करोना को हराने के लिए सबसे जरूरी हथियार वैक्सीन की किल्लत हो रही है. वैक्सीन की किल्लत का सबसे ज्यादा असर 18 से 44 साल की आयु वर्ग के लोगों पर पड़ रहा है, क्योंकि अभी तक 18 से 44 साल की आयु वर्ग के लोगों का वैक्सीनेशन शुरू नहीं हो पाया है. आलम यह है कि जम्मू शहर में करीब आधा दर्जन वैक्सीनेशन सेंटर पर ताला जड़ा है और यहां पर बाकायदा नोटिस लगाया गया है कि वैक्सीनेशन की कमी के चलते फिलहाल वैक्सीनेशन नहीं की जा सकती.

गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर सरकार ने पहले ही साफ कर दिया था कि वैक्सीन की कमी के चलते 20 मई तक प्रदेश में वैक्सीनेशन की प्रक्रिया शुरू नहीं की जा सकती. लेकिन, ऐसे में सबसे बड़ा सवाल ये कि अगर वैक्सीनेशन शुरू नहीं हो सकती तो शहर भर में 18 साल से 44 साल के लोगों के लिए वैक्सीनेशन सेंटर क्यों खोले गए.

जम्मू में लोगों को यह भी निर्देश दिए गए हैं कि जो भी 18 से 44 साल की आयु वर्ग के लोग वैक्सीनशन करवाने आये, वह अपना रजिस्ट्रेशन कराएं. लेकिन, आलम यह है कि जम्मू में किसी भी ऐप पर यह रजिस्ट्रेशन नहीं हो रहा है.

जम्मू के जानीपुर इलाके में वैक्सीनेशन का पता लेने आए तरसेम लाल के मुताबिक पिछले 15 दिन से अपने बच्चों के लिए वैक्सीनशन का पता लेने लगातार आ रहे है, लेकिन उन्हें ना तो वैक्सीनेशन केंद्र से और ना ही एप्लीकेशन से कोई सही जानकारी दी जा रही है.

तरसेम लाल ने कहा कि यह सरकार की नाकामी है कि आम जनता को वैक्सीनेशन सेंटर तक लाया जा रहा है और जो भी वैक्सीनेशन सेंटर पहुंच रहा है उसे कोई जानकारी नहीं दी जा रही.

मुंबई में वैक्सीन ड्राइव को लेकर राजनीति शुरू, कांग्रेस और शिवसेना के बीच दिखी खींचातान

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*