अगले हफ्ते ऑक्सफोर्ड-एस्ट्रेजेनका की वैक्सीन को मंजूरी दे सकती है भारत सरकार: सूत्र

नई दिल्ली: भारतऑक्सफोर्ड-एस्ट्रेजेनका की वैक्सीन को अलगे हफ्ते ‘इमरजेंसी इस्तेमाल’ के लिए मंजूरी दे सकता है. समाचार एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक ऑक्सफोर्ड-एस्ट्रेजेनका बना रहे सीरम इंस्टीट्यूट ने ट्रायल को लेकर डाटा जमा करवा दिया है.

बता दें कि सीरम इंस्टीट्यूट ने पहले भी इसकी इजाजत मांगी थी लेकिन डाटा पूरा नहीं होने के संबंधित अथारिटी ने इससे इनकार कर दिया था. भारत अगर ऑक्सफोर्ड-एस्ट्रेजेनका की वैक्सीन को इजाजत देता है तो ऐसा करने वाला दुनिया का पहला देश बन जाएगा. ब्रिटेन में अभी भी इस वैक्सीन के डाटा का परीक्षण चल रहा है.

देश के स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने कुछ दिन पहले कहा था कि जनवरी से देश में टीकाकरण की शुरुआत हो सकती है. सीरम इंस्टीट्यूट के अलावा भारत सरकार फाइजर और भारत बायोटेक के आवेदन पर भी विचार कर रही है. फाइजर की वैक्सीन के अमेरिका और ब्रिटेन समेत कुछ और देशों में मंजूरी मिल चुकी है. लेकिन फाइजर ने भारत में अभी तक ट्रायल की शुरुआत भी नहीं की है.

ऑक्सफोर्ड-एस्ट्रेजेनका की वैक्सीन को भारत जैसे विकासशील देश के लिए बेहद मुफीद माना जा रहा है. इसके साथ ही भारत के गर्म वातावरण के हिसाब से भी यह वैक्सीन सस्ती है. इस वैक्सीन को स्टोर करने के लिए भी विशेष इंतजाम नहीं करने पड़ते हैं. इसे फ्रिज के सामान्य तापमान पर भी रखा जा सकता है.

बच्चों को अभी नहीं दी जाएगी वैक्सीन- वी के पॉल

कोरोना की वैक्सीन आने पर बच्चों को नहीं दी जाएगी. भारत में वैक्सीन के लिए बनी वैक्सीन एक्सपर्ट कमेटी के अध्यक्ष और नीति आयोग के सदस्य डॉ वी के पॉल ने ये बात साफ कर दी है. उन्होंने कहा है कि अभी वैक्सीन देने की आवश्यकता नहीं है और ट्रायल भी नहीं हुए हैं.

केंद्र सरकार ने वैक्सीन आने पर किसे और कैसे दी जाएगी इसका प्लान पहले ही साफ कर दिया है. इसमें पहले हैल्थ केयर वर्कर, फ्रंटलाइन वर्कर और 50साल से ज्यादा उम्र के लोग और ऐसे लोग जिनकी उम्र 50 साल से कम है लेकिन उन्हे गंभीर बीमारी है.

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह का दावा, भारत में जल्द आएगी रूस में बनी कोरोना वैक्सीन, बांटने के लिए तैयारियां पूरी

कोरोना के नए स्ट्रेन को लेकर तेलंगाना में अलर्ट, 15 दिसंबर के बाद ब्रिटेन से आए यात्रियों की होगी जांच

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*