चक्रवात तौकते : महाराष्ट्र, गुजरात  और केरल में रेड अलर्ट, NDRF की टीमें रवाना 

भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने शुक्रवार को चक्रवात तौकते को लेकर बड़ी चेतावनी जारी करते हुए कहा कि लक्षद्वीप क्षेत्र में एक दबाव बन गया है, जो अगले 24 घंटों के दौरान एक चक्रवात में बदल जाएगा और गुजरात तट की ओर बढ़ जाएगा. आईएमडी ने अरब सागर और लक्षद्वीप के ऊपर बने चक्रवात तौकते के तेज होने के मद्देनजर महाराष्ट्र, केरल और गुजरात के कुछ हिस्सों में भारी बारिश की चेतावनी दी है. चक्रवात शनिवार सुबह तक उसी क्षेत्र पर केंद्रित होगा और अगले दिन और तेज हो जाएगा. चक्रवात के मद्देनजर NDRF की टीमें रवाना कर दी गईं हैं. 

अगले 12 घंटों में यह चक्रवाती तूफान तेज हो सकता है और बाद के 24 घंटों में यह और तेज हो सकता है. उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने के साथ 18 मई की सुबह तक यह चक्रवात गुजरात तट के पास पहुंच सकता है. 

इसके अगले 12 घंटों के दौरान गहरे दबाव में और बाद के 12 घंटों के दौरान चक्रवाती तूफान में बदलने की आशंका है. आज शाम तक उत्तर-उत्तर-पूर्व की ओर बढ़ने की संभावना है. उसके बाद यह उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ेगा और 18 मई की सुबह तक गुजरात तट के पास पहुंच जाएगा। आईएमडी ने लक्षद्वीप समूह, केरल, तमिलनाडु और कर्नाटक, गुजरात और गोवा के लिए भारी बारिश की चेतावनी जारी की है.

लक्षद्वीप द्वीप समूह में अधिकांश स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा, कुछ स्थानों पर बहुत भारी वर्षा, शुक्रवार को अलग-अलग स्थानों पर अत्यधिक भारी वर्षा, शनिवार को कुछ स्थानों पर बहुत भारी वर्षा, कुछ स्थानों पर बहुत भारी वर्षा हो सकती है. 

केरल में शुक्रवार और शनिवार को अलग-अलग स्थानों पर बहुत भारी बारिश हो सकती है. रविवार और सोमवार को अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश होने  अनुमान है. राज्य सरकार ने राहत शिविर खोलकर निचले इलाकों में रहने वालों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया है. 

तमिलनाडु में शुक्रवार को अलग-अलग स्थानों पर बहुत भारी बारिश के साथ कई स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है. शनिवार को अलग-अलग स्थानों पर बहुत भारी बारिश हो सकती है. 

कर्नाटक में शुक्रवार को अलग-अलग स्थानों पर शनिवार को अत्यधिक भारी बारिश हो सकती है. रविवार को कुछ स्थानों पर बहुत भारी बारिश का अनुमान है. सोमवार को छिटपुट स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है.

दक्षिण कोंकण और गोवा में कई स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश, छिटपुट स्थानों पर शनिवार को भारी बारिश और रविवार-सोमवार को कुछ स्थानों पर भारी से बहुत भारी बारिश हो सकती है. 

गुजरात की बात करें तो अगले दो दिनों में भारी बारिश शुरू हो सकती है. मंगलवार को सौराष्ट्र और कच्छ में कुछ स्थानों पर बहुत भारी बारिश हो सकती है तो बुधवार को कच्छ और उससे सटे दक्षिण-पश्चिम राजस्थान में बहुत भारी बारिश का अनुमान है.

उधर, IMD की चेतावनी के बाद गहरे समुद्र में निकले मछुआरों को तट पर लौटने की सलाह दी गई है. इस बीच, तिरुवनंतपुरम में अरुविक्करा बांध के शटर गुरुवार रात भारी बाढ़ के कारण खोले गए, जिससे करमना और किल्ली नदियों में बाढ़ आ गई.

केरल में, एर्नाकुलम के तटीय गांव चेल्लानम में स्थानीय लोगों ने शिकायत की कि उच्च ज्वार की लहरों के कारण समुद्र का पानी रिसने से कई घर क्षतिग्रस्त हो गए.

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*