UP Coronavirus Update: सामने आए 15747 नए केस, 312 मरीजों की हुई मौत 

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में शुक्रवार को कोरोना वायरस संक्रमण से और 312 मरीजों की मौत हो गई जबकि संक्रमण के 15,747 नए मामले सामने आए हैं. अपर मुख्‍य सचिव स्‍वास्‍थ्‍य अमित मोहन प्रसाद ने शुक्रवार को पत्रकारों को बताया कि पिछले 24 घंटे में संक्रमण से 312 मरीजों की मौत होने के साथ ही महामारी से राज्य में होने वाली मौतों की संख्या बढ़कर 16,958 हो गई है. उन्होंने बताया कि राज्य में संक्रमण के 15,747 नए मामले आए हैं, जबकि, अभी तक कुल 15,96,628 लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई है.

कम हुई है मरीजों की संख्या 
अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि पिछले 13 दिनों में राज्य में उपचाराधीन मरीजों की संख्या में 1.17 लाख से अधिक की कमी आई है. उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में अब कोविड-19 से मुक्त होने की दर 86.8 प्रतिशत है. अधिकारी ने बताया कि 30 अप्रैल को लगभग 3.10 लाख उपचाराधीन मरीज थे और वर्तमान में ये संख्या घटकर 1,93,815 रह गई है.

15747 नए मामले सामने आए हैं
अपर मुख्‍य सचिव स्‍वास्‍थ्‍य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि पिछले 24 घंटे में कोरोना के 15747 नए मामले सामने आए हैं. जबकि, इस अवधि में 26,174 लोग संक्रमण मुक्त हुए हैं, राज्य में अब तक संक्रमण से मुक्त होने वाले रोगियों की कुल संख्या बढ़कर 13,85,855 हो गई है.

4.41 करोड़ से अधिक नमूनों की हुई जांच 
प्रसाद ने कहा कि अब तक राज्य में 4.41 करोड़ से अधिक नमूनों का परीक्षण किया गया है. इसमें बुधवार को परीक्षण किए गए 2.63 लाख से अधिक नमूने शामिल हैं. उन्होंने कहा कि राज्य के फिलहाल संक्रमित लोगों में से 1,57,257 आइसोलेशन में हैं और घर पर रहकर ही स्‍वास्‍थ्‍य लाभ ले रहे हैं और बाकी लोगों का इलाज सरकारी और निजी अस्पतालों में हो रहा है.

जारी है टीकाकरण 
राज्य में चल रहे टीकाकरण अभियान के बारे में उन्होंने कहा कि कुल 1.44 करोड़ से अधिक खुराक दी गई है जिसमें 1.13 करोड़ से अधिक लोगों को पहली खुराक दी गई है. प्रसाद ने कहा कि राज्य के 18 जिलों में अभी तक 18 से अधिक उम्र के लोगों का टीकाकरण चल रहा था और 17 मई से राज्य के 23 जिलों में टीकाकरण किया जाएगा.

ये भी पढ़ें: 

कोरोना काल में मिसाल बना प्रयागराज का ये परिवार, जानें- कैसे 26 लोगों ने दी महामारी को मात

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*