चित्रकूट जेल में हुई गैंगवार में पश्चिम यूपी का कुख्यात बदमाश मुकीम काला ढेर, कभी करता था मजदूरी 

<p style="text-align: justify;"><strong>शामली:</strong> कुख्यात बदमाश मुकीम काला गैंग साल 2013 में रंगदारी, डकैती और व्यापारियों की दिनदहाड़े हत्या से पश्चिम यूपी का कैराना समेत देशभर में बदनाम हो गया था. गैंग का लीडर रहा मुकीम काला के नाम से व्यापारियों सहित आमजन थर्रा जाते थे. गैंग के लीडर के इशारे पर गैंग के बदमाश दिनदहाड़े व्यापारियों से रंगदारी मांगते थे और रंगदारी ना देने पर व्यापारियों की हत्या कर दी जाती थी.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>बिखर गया गैंग&nbsp;</strong><br />2015 में कुख्यात बदमाश मुकीम काला और उसके साथी साबिर जंधेडी को नोएडा और मेरठ की स्पेशल टास्क फोर्स ने नोएडा गेट के पास से गिरफ्तार कर लिया था. उस दौरान दोनों बदमाशों से एक एके 47 रायफल, एक पिस्टल, एक रिवॉल्वर और भारी मात्रा में कारतूस भी बरामद किए थे. दोनों बदमाशों को जेल की सलाखों के पीछे डाल दिया था. करीब 3 साल पहले कुख्यात बदमाश मुकीम काला गैंग का शार्प शूटर साबिर को उसके गांव जंधेडी में पुलिस ने मुठभेड़ के दौरान मार गिराया था जिसके बाद मुकीम काला का गैंग बुरी तरह बिखर गया.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>मुकीम काला मारा गया</strong><br />मुठभेड़ में साबिर के ढेर होने के बाद मुकीम काला को हरियाणा सहित अन्य राज्यों की जेलों में शिफ्ट किया जाता रहा. हाल के दिनों में कुख्यात बदमाश चित्रकूट की जेल में बंद था. ईद के दिन दोपहर के समय जेल के अंदर बदमाशों के बीच गैंगवार हुई, जिसमें मुकीम काला को मार दिया गया. मुकीम काला को मारने वाले बदमाश अंशुल दीक्षित को भी पुलिस ने मार गिराया है.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>मजदूरी करता था मुकीम काला</strong><br />कैराना कोतवाली क्षेत्र के गांव जहानपुरा में मुकीम काला का मकान खंडहर बना हुआ है. जैसे ही मुकीम काला की चित्रकूट जेल के अंदर मौत की सूचना गांव पहुंची तो गांव में पूरी तरह सन्नाटा छा गया. कुछ ही ग्रामीण मुकीम के घर के आसपास एक दूसरे से जानकारी लेते नजर आए. गांव के रहने वाले महताब और इकराम ने बताया कि मुकीम काला करीब 15 साल की उम्र में चिनाई मिस्त्रियों के साथ मजदूरी करता था.&nbsp;</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>परिवार कई साल से गांव में नहीं रहता है</strong><br />कुछ समय बाद मुकीम काला सहारनपुर क्षेत्र के कुख्यात बदमाश रहे मुस्तफा उर्फ कग्गा के संपर्क में आया. तभी से मुकीम काला जरायम की दुनिया का बेताज बादशाह बन गया. जिस पर हरियाणा, उत्तराखंड सहित उत्तर प्रदेश के सहारनपुर और शामली व कैराना थानों में करीब 61 मुकदमे दर्ज हैं. गांव वालों का कहना है कि उसका परिवार कई साल से गांव में नहीं रहता, जबकि उसके बराबर में मौजूद उसके दो चाचा के मकान भी बंद पड़े हुए हैं. वहीं, कुख्यात बदमाश मुकीम काला की मौत के बाद व्यापारियों सहित आमजन ने भी राहत की सांस ली है.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>गिरफ्तारी के दौरान मिला था हथियारों का जखीरा&nbsp;</strong><br />मुकिम की गिरफ्तारी के दौरान इसकी निशानदेही पर कैराना से एके 47, 30 बोर पिस्टल मय दो मैगजीन तथा 65 कारतूस, रिवॉल्वर 38 बोर मय 34 कारतूस, 15 कारतूस 9 एमएम, एक मोबाइल फोन बरामद हुए थे. मुकीम पर हत्या के 16, लूट के 22 मामलों समेत कुल 61 दर्ज मामले संज्ञान में आए हैं.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>बना जरायम का बादशाह</strong><br />शामली के जहानपुरा में रहने वाले मुस्तकीम का बेटा मुकीम बहुत जल्द जरायम की दुनिया का बादशाह बन गया था. मामूली वारदातों से अपराध की दुनिया में कदम रखा फिर पैसे की चाह में राहजनी की राह पर चल पड़ा. कुछ समय बाद कई साथियों के साथ पश्चिम उत्तर प्रदेश में आतंक बरपाने वाले कग्गा गिरोह में शामिल हो गया. शातिर कग्गा गिरोह में रहकर उसने कई जघन्य वारदातों को अंजाम दिया. कग्गा के पुलिस मुठभेड़ में मारे जाने के बाद उसने खुद का गिरोह बना लिया और अपने क्षेत्र के साथियों की मदद से हरियाणा, पश्चिम उत्तर, दिल्ली और उत्तराखंड में अपराध को अंजाम दिया.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>सिपाही राहुल ढाका की हत्या</strong><br />मुकीम पर 50 करोड़ से ज्यादा की लूटपाट और अनगिनत हत्याओं का आरोप था. सात साल पहले पांच जून को हरियाणा में दो पेट्रोल पंपों से डकैती करके भागते हुए मुकीम काला ने दिनदहाड़े सहानपुर में हसनपुर रजवाहे पर सिपाही राहुल ढाका की हत्या कर उसकी कारबाइन लूट ली थी. तनिष्क ज्वेलरी शॉप में करोड़ों की डकैती डालने के बाद सहारनपुर पुलिस ने गैंग के सभी शार्प शूटरों और उसकी पत्नी को जेल भेजा था.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>सहारनपुर किए गए अपराध</strong><br />सिपाही राहुल ढाका की हत्या कर कारबाइन लूटी. देवबंद में सर्राफा कारोबारी की हत्या कर लाखों की लूट. देवबंद में गोल्ड सप्लायर से एक करोड़ का सोना लूटा. तनिष्क ज्वेलरी शॉप में करोड़ों की डकैती. बेहट में एक दर्जन से ज्यादा बार रायल्टी चेक पोस्ट पर लूट. गंगोह में मीट सप्लायर से 25 लाख की लूट. गंगोह में सर्राफा कारोबारी के यहां 80 लाख का डाका. एक दर्जन से ज्यादा व्यापारियों से रंगदारी वसूली।</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>मुकीम के गैंग में थे 16 शूटर</strong><br />मुकीम काला के गिरोह में शामली, कैराना, सहारनपुर और मुजफ्फरनगर के युवक शामिल थे. मुकीम ने अपने गैंग के साथ हरियाणा, पश्चिम उत्तर, दिल्ली और उत्तराखंड में अपराधों को इस कदर अंजाम दिया कि उत्तर प्रदेश में डेढ़ लाख और पड़ोसी राज्य ने पचास हजार का इनाम घोषित कर दिया.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>ये भी पढ़ें:&nbsp;</strong></p>
<h4 class="article-title"><a href="https://www.abplive.com/states/up-uk/a-minor-girl-murdered-in-amethi-parents-alleges-rape-with-her-1913872">अमेठी: किशोरी की हत्या के बाद पेड़ पर लटकाई लाश, परिजनों ने लगाया रेप का आरोप</a></h4>

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*