एक्शन में नीतीश कुमार के मंत्री, अस्पताल में निरीक्षण के दौरान मिली शिकायत का ऑन स्पॉट किया निपटारा

सुपौल: बिहार के वन, पर्यावरण और जलवायु मंत्री नीरज कुमार सिंह बबलू ने शुक्रवार को सुपौल जिले में अलग-अलग जगह चल रहे वैक्सिनेशन केंद्र और कोविड केयर सेंटर का निरीक्षण किया. निरीक्षण के दौरान मंत्री ने मरीजों का हाल जाना और डॉक्टरों को आवश्यक दिशानिर्देश दिए. इस दौरान बसंतपुर पीएचसी प्रभारी डॉ. अर्जुन चौधरी ने डॉक्टरों एवं नर्सिग स्टाफ की कमी की बात कही.

डॉक्टर को बहाल करने का दिया निर्देश

इस पर तत्काल संज्ञान लेते हुए मंत्री नीरज कुमार बबलू ने सेवानिवृत डॉक्टर केपी सिंह को पीएचसी में बहाल करने के साथ ही प्राइवेट नर्सिग स्टाफ आदि को अपने माध्यम से बहाल करने का निर्देश दिया. वीरपुर अनुमंडलीय अस्पताल में चल रहे कोविड केयर सेंटर का निरीक्षण कर मंत्री ने अस्पताल में भर्ती मरीजों को मिलने वाली सुविधाओं जैसे- खाना, दवाई आदि की जानकारी ली. साथ ही ड्यूटी से गायब डॉक्टरों पर जांच के बाद कार्रवाई करने की बात कही.

मरीजों को ऑक्सीजन की कमी नहीं होगी

निरीक्षण के बाद पत्रकारों को जानकारी देते हुए मंत्री ने कहा कि वीरपुर अस्पताल में जल्द ही विधायक निधि से ऑक्सीजन प्लांट लगाया जाएगा. इससे मरीजों को भविष्य में ऑक्सीजन की कमी नहीं होगी. उन्होंने जल्द ही महिला चिकित्सक को पदस्थापित करवाने की भी बात कही. साथ ही उन्होंने कहा कि मरीजों को सभी तरह की सुविधा मुहैया कराई जाएगी.

मंत्री ने बुनियादी केंद्र में चल रहें 18 से 44 साल के लोगों के कोविड टीकाकरण केंद्र का जायजा लिया और उपलब्ध वैक्सीन का जायजा लिए. साथ ही डॉक्टरों को निर्देश दिया कि सभी लोगों को वैक्सीन लगवाने के लिए लोगों को जागरूक करें.

यह भी पढ़ें –

पटना में 19 संक्रमितों की मौत; AIIMS में 6, PMCH में 4, IGIMS में एक और NMCH में 8 की जान गई

बिहारः कांग्रेस नेता ने दी नीतीश कुमार को ‘नसीहत’, कहा- केंद्र का मोह छोड़िए; ग्लोबल टेंडर निकालिए

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*