9 महीने बाद श्रद्धालुओं के लिए खुले जगन्नाथ मंदिर के कपाट, कोरोना नियमों का करना होगा पालन

कोरोना महामारी की वजह से लागू किए गए लॉकडाउन के दौरान कई प्रतिबंध लगाए थे. इस दौरान कई मंदिरो के कपाट भी बंद कर दिए गए थे. ओडिशा का भगवान जगन्नाथ का मंदिर भी पिछले 20 मार्च से बंद था. वहीं करीब 9 महीने के बाद श्री जगन्नाथ मंदिर के पट आज से श्रद्धालुओं के लिए खोल दिए गए हैं. मंदिर के प्रशासन द्वारा पुरी निवासी भक्तों को 23 से 31 दिसंबर तक देवताओं  के दर्शन के लिए अनुमति दे दी गई है. हालांकि इस दौरान कोरोना संबंधी सभी सुरक्षा नियमों का कड़ाई से पालन करना अनिवार्य है.

तीन जनवरी से सभी के लिए खोला जाएगा जगन्नाथ मंदिर

वहीं मंदिर प्रशासन ने जानकारी दी है कि पहले सरकार से मंदिर को पांच दिन के लिए पुरी के लोगों के लिए खोलने की अपील की गई थी. क्योंकि वह मंदिर के काफी पास रहने के बाद भी भगवान के दर्शन नहीं कर पा रहे थे. श्री जगन्नाथ मंदिर प्रशासन (एसजेटीएस) के प्रमुख प्रशासक कृष्ण कुमार ने बताया कि नये साल पर श्रद्धालुओं की भीड़ की संभावना के मद्देनजर बंद रहेगा लेकिन तीन जनवरी से सभी के लिए खोला जाएगा.

कोरोना गाइडलाइंस का पालन करना अनिवार्य

 जगन्नाथ मंदिर को कोरोना प्रोटोकॉल की गाइडलाइंस के साथ खोला गया है. मंदिर प्रशासन को कोरोना नियमों का पालन सख्ती से करवाना होगा. वहीं भगवान जगन्नाथ के दर्शन के लिए भक्तों को मास्क लगाना अनिवार्य है. इसके साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग का भी खास ख्याल रखना होगा. मंदिर में सैनिटाइजर की भी व्यवस्था की गई है.

ये भी पढ़ें

DDC Election Result: गुपकार को मिला बहुमत, जम्मू में दिखा BJP का दम तो घाटी में रही फिसड्डी, जानें अंतिम आंकड़े

महाराष्ट्र के बाद आज से कर्नाटक में लगा नाइट कर्फ्यू, रात 10 से सुबह 6 बजे तक रहेगा लागू

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*