चित्रकूट के डीएम बोले- ऑक्सीजन की कमी नहीं, हमारा फोकस अब गांवों की ओर

DM e-कॉन्क्लेव में चित्रकूट के डीएम शुभ्रांत कुमार शुक्ल ने बताया कि जिले में ग्रामीण परिवेश होने के कारण बाकी महानगरों की तरह स्थिति खराब नहीं हुई. जिले में कोरोना के कुल मामले 1500 के करीब हैं. अभी करीब 50 एक्टिव केस आ रहे हैं, फिलहाल करीब 863 एक्टिव केस हैं. वहीं, 64 मरीजों की अब तक मौत हुई है.

“ग्रामीण इलाकों में फोकस”
उन्होंने बताया कि शहरी इलाकों से थोड़ा ध्यान हटाकर ग्रामीण इलाकों में फोकस कर रहे हैं. हम ट्रेस, ट्रैक और ट्रीट वाले फॉर्मूले के आधार पर ही काम कर रहे हैं. हमारे जिले से कोरोना टेस्टिंग के सैंपल बांदा जाते हैं, लेकिन जिस में लक्षण दिखे हमने तुरंत उन लोगों को दवा दी और उनका इलाज शुरू किया. 

1 प्रतिशत से कम मृत्यु दर- डीएम
उन्होंने बताया कि जिले में एक प्रतिशत से भी कम मृत्यु दर है, इनमें भी वरिष्ठ नागरिक ज्यादा हैं. चित्रकूट में ऑक्सीजन की दिक्कत नहीं हुई, हमें प्रयाजराज से ऑक्सीजन की सप्लाई हो रही थी. हमने एक बड़े अस्पताल को कोविड अस्पताल में बदला. हमारे पास 70 ऑक्सीजन कंसनट्रेटर हैं, इसके साथ विधायक निधि और पीएम केयर्स से भी एक-एक ऑक्सीजन प्लांट लगाने की तैयारी हो रही है.

यूपी में कोरोना के 15,747 नए मामले
उधर, यूपी में शुक्रवार को कोरोना वायरस संक्रमण से और 312 मरीजों की मौत हो गई जबकि संक्रमण के 15,747 नए मामले सामने आए हैं. अपर मुख्‍य सचिव स्‍वास्‍थ्‍य अमित मोहन प्रसाद ने शुक्रवार को पत्रकारों को बताया कि पिछले 24 घंटे में संक्रमण से 312 मरीजों की मौत होने के साथ ही महामारी से राज्य में होने वाली मौतों की संख्या बढ़कर 16,958 हो गई है. उन्होंने बताया कि राज्य में संक्रमण के 15,747 नए मामले आए हैं, जबकि, अभी तक कुल 15,96,628 लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई है.

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*