आरा में अलग-अलग हादसों में दो लोगों की मौत, जख्मी किशोर को सदर अस्पताल में कराया भर्ती

आराः भोजपुर जिले में दो अलग-अलग सड़क दुर्घटनाओं में दो शख्स की मौत हो गई जबकि एक किशोर जख्मी हो गया. पहली घटना कोईलवर थाना क्षेत्र के कुल्हड़िया गांव के समीप की है जहां रविवार की शाम एक बस ने बाइक सवार दो लोगों को रौंद दिया. हादसे में एक शख्स की मौत हो गई वहीं एक किशोर गंभीर रूप से जख्मी हो गया. जिसका इलाज सदर अस्पताल में कराया जा रहा है.

बताया जा रहा कि हादसे के बाद चालक बस छोड़ फरार हो गया. सूचना मिलते ही स्थानीय थाना की पुलिस पहुंचकर बस को अपने कब्जे में ले लिया. मृतक पटना जिले के मनेर थाना क्षेत्र के गौरैया स्थान नीलकंठ टोला निवासी देवेंद्र राम का 18 वर्षीय पुत्र बादल कुमार है. जख्मी किशोर उसी थाना क्षेत्र के ब्लॉक टाटा कॉलोनी निवासी चंद्रदेव राम का 12 वर्षीय पुत्र राहुल कुमार है. दोनों रिश्ते में चचेरे भाई लगते हैं.

हादसे के बाद घर के लोगों का रो-रोकर बुरा हाल

परिजनों ने बताया कि वह रविवार की सुबह दोनों बाइक से कोईलवर थाना क्षेत्र के सकड्डी गांव अपनी चचेरी बहन के यहां आए थे. लौटने के दौरान कुल्हड़िया गांव के समीप सामने से आ रही बस ने रौंद दिया. पुलिस ने इसकी सूचना परिजनों को दी. सूचना मिलते ही वे सदर अस्पताल पहुंचे. शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है. हादसे के बाद परिवार के सभी सदस्यों का रो-रोकर बुरा हाल है.

स्कॉर्पियो ने बाइक सवार को रौंदा, चालक की मौत

वहीं दूसरी घटना गजराजगंज ओपी क्षेत्र के बीबीगंज पेट्रोल पंप के समीप की है. रविवार दोपहर बेलगाम स्कॉर्पियो ने एक बाइक में टक्कर मार दी. हादसे में बाइक सवार की घटनास्थल पर ही मौत हो गई. घटना के बाद चालक स्कॉर्पियो छोड़ फरार हो गया. पुलिस ने स्कॉर्पियो को जब्त कर लिया. वहीं, शव का पोस्टमार्टम सदर अस्पताल में करवाया.

मृतक बक्सर जिला के ब्रह्मपुर थाना क्षेत्र के दसईया डेरा रघुपति डेरा (जवही दियारा) गांव निवासी संतोष पासवान का 24 वर्षीय पुत्र राजू कुमार है. परिजनों ने बताया कि वह आज सुबह बाइक से किसी काम को लेकर पटना जा रहा था. इसी बीच बीबीगंज पेट्रोल पंप के समीप सामने से आ रही है बेलगाम स्कॉर्पियो ने बाइक में जोरदार टक्कर मार दी जिससे घटनास्थल पर ही मौत हो गई.

यह भी पढ़ें- 

हाजीपुरः लॉकडाउन के उल्लंघन में 12 दुकानों को पुलिस ने किया सील, पांच दुकानदार गिरफ्तार

खलनायक से निर्देशक बने अवधेश मिश्रा, कहा- मासूम जिंदगियों की खामोश सिसकियों की कहानी है ‘जुगनू’

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*