बिहार: अंतिम संस्कार के नाम पर ऐंठे पैसे, कचरा उठाने वाले ठेले पर ले गए कोरोना मरीज की लाश 

नालंदा: बिहार के नालंदा जिले में इनदिनों एक वीडियो सोशल मीडिया पर बड़ी तेजी से वायरल हो रहा है. वायरल वीडियो में पीपीई किट पहना शख्स ठेले पर लाश ले जाता हुए दिख रहा है. पड़ताल करने पर पता चला कि शख्स नगर निगमकर्मी है, जो कचरे के ठेले पर कोरोना मरीज की लाश लेकर जा रहा था. घटना नालंदा के जिला मुख्यालय बिहारशरीफ के वार्ड नंबर 17 की है. 

मृतक के घर नहीं था कोई

मिली जानकारी अनुसार बिहारशरीफ के सोहसराय थानान्तर्गत जलालपुर मोहल्ले में 35 साल के मनोज कुमार उर्फ गुड्डू की 13 मई को कोरोना संक्रमण के कारण मौत हो गई थी. मृतक किराये के कमान में मां और पत्नी के साथ रहता था. गुड्डू की मौत के वक्त घर में कोई नहीं था. ऐसे में वार्ड संख्या-8 के पार्षद ने अंतिम संस्कार कराने की बात कही. 

वार्ड पार्षद की ओर से लोगों को बताया गया कि नगर निगम की ओर से अंतिम संस्कार के लिए एक कमिटी बनाई गई है, जो वैसे लोग जिनका कोई नहीं है, उनका अंतिम संस्कार कराती है. नगर निगम के वाहन से शव को ले जाया जाएगा. 

वार्ड पार्षद पर अवैध वसूली का लगाया आरोप

नगर निगमकर्मियों की ओर से अंतिम संस्कार के एवज में 22 हजार रुपये की मांग की गई, जिसके बाद परिजनों ने किसी प्रकार 16,500 रुपये दिए. उसके बाद नगर निगम के कचरा उठाने वाले ठेले पर शव को ले जाया गया. इस बात नाराज स्थानीय लोगों ने आरोप लगाया कि वार्ड पार्षद ने अवैध वसूली की है. इस संबंध में स्थानीय लोगों ने बिहार के मुख्यमंत्री, नालंदा के डीएम, सांसद सहित अन्य जगहों पर आवेदन देकर मामले की जांच की मांग की है. वहीं, वार्ड पार्षद ने अवैध वसूली के आरोप को सिरे से खारिज किया और राजनीति के तहत आरोप लगाने की बात कही.

यह भी पढ़ें –

बिहार के इस गांव में कोरोना टेस्ट नहीं कराते लोग, 15 दिनों में 10 मौतों के बाद भी नहीं खुल रहीं आंखें

बिहार: गया के पटवा टोली में 24 घंटे काम कर रहे कारीगर, 20 दिनों में 3 गुना बढ़ी कफन की मांग

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*