सीएम योगी का निर्देश- नए स्ट्रेन से प्रभावित देशों से आए सभी लोगों की कोरोना जांच अनिवार्य

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोरोना वायरस के नए स्वरूप से प्रभावित ब्रिटेन और अन्य देशों से राज्य में आने वाले लोगों की कोविड-19 जांच अनिवार्य रूप से कराने के निर्देश दिए हैं. राज्य सरकार के प्रवक्ता ने बताया कि मुख्यमंत्री ने बुधवार को लोक भवन में एक उच्चस्तरीय बैठक में कहा कि कोरोना वायरस के नए स्वरूप को ध्यान को रखते हुए पूरी सतर्कता बरतनी आवश्यक है. इस संबंध में थोड़ी सी लापरवाही भी भारी पड़ सकती है.

मुख्यमंत्री ने कहा कि वायरस के नए स्वरूप से प्रभावित देशों से गत 25 नवंबर से आठ दिसंबर के दौरान प्रदेश में आए लोगों के प्रभावी क्वॉरंटीन और लक्षण के आधार पर परीक्षण की व्यवस्था की जाए. साथ ही इन देशों से नौ दिसंबर के बाद प्रदेश में आए लोगों की अनिवार्य रूप से आरटी-पीसीआर जांच की जाए. उन्होंने कहा कि कोविड-19 के टीकाकरण के संबंध में समयबद्ध ढंग से कार्यवाही की जाए. इस संबंध में जिला स्तर पर संचालित गतिविधियों की गहन निगरानी की जाए.

इस बीच, राज्य के चिकित्सा और स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद ने बुधवार को बताया कि कुछ देशों में कोरोना का नया स्ट्रेन मिला है जो बहुत तेजी से फैल रहा है. उन्होंने अपील की कि जो लोग हाल ही में ब्रिटेन से लौट कर आए हैं, वे अपनी कोविड-19 जांच जरूर करा लें और संक्रमित नहीं होने पर भी करीब दस दिन घर में ही क्वॉरंटीन में रहें. उन्होंने कहा कि जो लोग अन्य यूरोपीय देशों से आए हैं, उन्हें भी कोई लक्षण होने पर अपनी जांच अवश्य करानी चाहिए.

यूपी में अबतक कोरोना से 8245 मौत

प्रसाद ने बताया कि पिछले 24 घंटों के दौरान प्रदेश में कोविड-19 संक्रमित 22 और लोगों की मौत के साथ राज्य में इस वायरस से मरने वालों की संख्या बढ़कर 8245 हो गई है. उन्होंने बताया कि पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य में 1233 नए मरीजों में कोविड-19 संक्रमण की पुष्टि हुई है. इस समय प्रदेश में उपचाराधीन मामलों की कुल संख्या 16378 है. इनमें से 7215 घर में ही पृथक-वास में हैं और 1774 निजी अस्पतालों में अपना इलाज करवा रहे हैं. उन्होंने बताया कि अब तक 553019 लोग पूरी तरह ठीक होकर घर जा चुके हैं. इस समय प्रदेश में संक्रमणमुक्त होने की दर बढ़कर 95.74 हो गई है. अधिकारी ने बताया कि पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य में 139637 नमूनों की जांच की गई. राज्य में अब तक 22832382 नमूने जांचे जा चुके हैं.

यह भी पढ़ें-

रायबरेली: एबीपी की खबर का असर, जर्जर पुल के मरम्मत का काम शुरू, पीएम मोदी ने किया था लोकार्पण

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*