बिहार की जनता से वर्चुअल संवाद करेंगे लालू यादव, सादे अंदाज में मनेगा RJD का 25वां स्थापना दिवस

पटना: बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू यादव की पार्टी राष्ट्रीय जनता दल का पांच जुलाई को 25वां स्थापना दिवस है. पार्टी के स्थापना दिवस के दिन लालू यादव बिहार की जनता से वर्चुअल संवाद करेंगे. कोरोना की वजह से किसी भव्य कार्यक्रम का आयोजन नहीं किया जाएगा. दरअसल, सोमवार को नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने पार्टी नेताओं की बैठक बुलाई थी. बैठक के बाद कयासों का बाजार गर्म था. ऐसे में मंगलवार को मीडिया से बातचीत के दौरान तेजस्वी ने स्पष्ट कर दिया कि पार्टी की सिल्वर जुबली के अवसर कोई विशेष कार्यक्रम का आयोजन नहीं किया जाएगा.

लालू यादव करेंगे उद्घाटन

तेजस्वी यादव ने कहा, ” आरजेडी की स्थापना लालू यादव ने पांच जुलाई को की थी. इस बार रजत समारोह है. लेकिन कोरोना को लेकर जारी किए गए गाइडलाइन के अनुसार बड़े पैमाने पर कार्यक्रम नहीं किए जा सकते हैं. इन्हीं सब बातों को लेकर बैठक बुलाई गई थी. बैठक में पार्टी ने निर्णय लिया है कि पार्टी वर्चुअल तरीके से इस समारोह को मनाने का काम करेगी. इस बार लालू यादव द्वारा ही समारोह का उद्घाटन किया जाएगा और वो वर्चुअल तरीके से बिहार के लोगों से संवाद भी करेंगे.”

छह जुलाई तक रोक लगाने में बिहार सरकार की कोई साजिश तो नहीं के सवाल पर उन्होंने कहा कि रोक कब तक रहेगी? अब तो थर्ड वेब आने वाला है. लेकिन अभी तक वैक्सीन का एक राउंड भी पूरा नहीं हुआ. आंकड़े छिपाए जाते हैं. ब्लैक फंगस-वाइट फंगस का एक भी ऑपरेशन एनएमसीएच या पीएमसीएच में नहीं हो रहा. ब्लैक फंगस की सबसे महत्वपूर्ण दवा जो सर्जरी से पहले और सर्जरी के बाद उपयोग किया जाता है, उस दवा की बिहार में कमी है.”

बिहार एनडीए में तालमेल नहीं 

पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी के शराब वाले बयान पर तेजस्वी ने कहा, ” इस पर मैं क्या बोलूं. इनलोगों में पता नहीं किस बात का गठबंधन है. इस गठबंधन की पोल तभी खुल गई थी, जब हमने दस लाख नौकरी देने की बात कही थी और नीतीश कुमार ने कहा था कि ये असंभव है. लेकिन बीजेपी बोली कि हम 19 लाख नौकरी देंगे. इनमें कोई तालमेल नहीं. अभी मुख्यमंत्री कहते हैं कि शराबबंदी अच्छे से लागू है और मांझी कहते हैं कि इसपर विचार करना चाहिए.”

यह भी पढ़ें –

बिहारः नदी पार कराने के लिए नई-नवेली दुल्हन को दूल्हे ने गोद में उठाया, वीडियो वायरल

बिहार के छह जिले हुए नक्सल-मुक्त, अब भी 10 बचे, केंद्रीय गृह मंत्रालय ने जारी की सूची

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*