सुबह-ए-बनारस पर पुलिस की निगहबानी, लोगों को होगा सुरक्षा का एहसास  

Varanasi Police Security: सुबह-ए-बनारस का दृश्य अब खाकी की सुरक्षा से लैस हो गया है. वाराणसी कमिश्नरेट ने अपने प्लान 9 के तहत घाट किनारे गलियों में और पार्कों में पुलिसकर्मियों को उतार दिया है. अब पुलिस अंधेरी रात के बाद सुबह सवेरे मॉर्निंग वाक करने वालों को भी सुरक्षा दे रही है. 

वाराणसी में बड़ी संख्या में लोग करते हैं मॉर्निंग वक
सीपी ए सतीश गणेश की मानें तो घाट के शहर बनारस में मॉर्निंग वाक का चलन है. लोग घाटों के किनारे मॉर्निंग वाक करते हैं. इसके अलावा गलियों में भी लोग वाक करते हैं. पार्क और सड़क पर भी लोग मॉर्निंग वाक करते नजर आते हैं. ऐसे में लोगों को सुरक्षा मिले और सुरक्षित माहौल में लोग शुद्ध हवा ले सकें इसी प्लान पर पुलिस काम कर रही है. अब वाराणसी कमिश्नरेट की पुलिस हर जगह मौजूद मिलेगी. किसी शोहदे या फिर गुनहगार की शक के आधार पर चेकिंग की जाएगी और सत्यापन जरूर किया जाएगा. 

अब 24 घंटे फील्ड में पुलिस 
आम तौर पर रात क्राइम की वारदातें रात होती हैं लेकिन पिछले कुछ दिनों से छिनैती की घटनाएं सुबह होने लगी थी. आधा दर्जन से ज्यादा घटनाओ के संज्ञान में आने के बाद वाराणसी पुलिस ने अब इसका हल निकाल लिया है. अब घटना को अंजाम देने वालों का सुबह सवेरे खाकी से सामना होगा. पुलिस सुबह की पहली किरण के साथ जनता के बीच उन्हें सुरक्षा देती नजर आ रही है.

अपराधमुक्ति के लिए कई प्लान
वाराणसी कमिश्नरेट बनने के साथ ही अब अपराध मुक्ति के लिए खाकी का स्मार्ट प्लान तैयार हो चुका है. चाहे अंधेरी रात हो या फिर सुबह की पहली किरण, वाराणसी पुलिस जनता की सेवा में रहेगी. अपराधियों के घर पर दस्तक दी जा रही है उनकी कुंडली खंगाली जा रही है. इसके साथ ही अब पुलिस सुबह सवेरे जनता को सुरक्षा देने के लिए संकल्पबद्ध है. सीपी ए सतीश गणेश की मानें तो काशी में अब अपराध की मंशा भी क्षम्य नहीं होगी पुलिस की निगाह सब पर चौकस रहेगी. 

ये भी पढ़ें:  

Bikru Case: खुशी दुबे की जमानत पर सुनवाई टली, खराब सेहत का हवाला दे, डाली है याचिका

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*