अमित शाह से मुलाकात के बाद गोरखपुर लौटे संजय निषाद, फिर दोहराई डिप्टी सीएम पद की मांग

गोरखपुर. निषाद पार्टी के अध्यक्ष संजय निषाद ने एक बार फिर अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव में डिप्टी सीएम के पद की मांग को दोहराया है. उन्‍होंने कहा कि ये मांग उनके कार्यकर्ताओं की है. क्‍योंकि 160 सीटें निषाद बाहुल्‍य हैं. साल 2014 में जिन भी पार्टियों का निषादों ने साथ छोड़ा वे हाशिए पर चली गईं. कांग्रेस, बसपा और सपा का हश्र सबके सामने है. उन्‍होंने कहा कि बीजेपी मित्र का फर्ज अदा कर निषाद और उनकी उपजातियों को आरक्षण देकर अपने वायदे को जल्‍द पूरा करे. 

बता दें कि संजय निषाद गृहमंत्री अमित शाह और यूपी के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ से मुलाकात के बाद गोरखपुर पहुंचे थे. इस दौरान उन्‍होंने कहा कि निषाद समाज ने भगवान श्रीराम का साथ दिया. इसी वजह से डा. संजय निषाद बीजेपी के साथ गए. हमारा आरक्षण का मुद्दा है. 70 साल से सभी पार्टियों ने ठगा है. किसी ने कुछ नहीं किया. बीजेपी की मंशा साफ है. हमारे प्रति इनके विचार अच्‍छे रहे हैं. मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने हमारे मुद्दों को एक दर्जन बार सदन में उठाया था.

नड्डा और शाह के सामने उठाई मांग
उन्होंने आगे कहा कि बीजेपी ने उनके लिए सामाजिक न्‍याय समिति बनाई थी. उसमें लिखा है कि 23 प्रतिशत आरक्षण में सबका हक है. उन्‍होंने कहा कि दिल्‍ली में बीजेपी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष जेपी नड्डा, गृहमंत्री अमित शाह और प्रधानमंत्री के सलाहकार के सामने उन्‍होंने ये मुद्दा उठाया है कि वे पिछड़ी जाति में नहीं हैं. 1992 में जबरदस्‍ती उनकी जाति को पिछड़ी जाति में डाल दिया गया. उन्‍होंने कहा कि हमारी बात से उन लोगों ने सहमति जताई है. इसे स्‍वीकार भी किया है. हमारे पांच मुद्दे हैं. पिछली सरकारों ने इन पर फर्जी मुकदमें दर्ज कराए गए हैं. उन्‍हें वापस लिया जाए. इनकी जमीन, ताल और पोखरों को बसपा की सरकार ने कब्‍जा कर लिया. उन्‍हें वापस दिलाया जाए.

संजय निषाद ने कहा कि निषाद ने भगवान श्रीराम की सेना को लंका पर विजय प्राप्‍त करने के लिए अपनी सेना दी थी. हमारी सेना ने उसी तरह मोदी जी को प्रधानमंत्री बनाया है. उन्‍होंने कहा कि 40 सांसद कहते हैं कि निषाद समाज के लोगों ने उन्‍हें जिताया है.

संजय निषाद ने कहा कि निषाद समाज के लोगों की बीजेपी को सलाह है कि संजय निषाद को उप मुख्‍यमंत्री का चेहरा 2022 में बनाकर बीजेपी चुनाव लड़े तो आसानी से जीत हासिल हो जाएगी. उन्‍होंने कहा कि हम लोग दोबारा मोदीजी और योगीजी के नेतृत्‍व में फिर से सरकार बनाना चाहते हैं. पिछली सरकारों को 70 साल से हम लोगों ने देखा है. सभी ने इनको ठगा है.

“बीजेपी ने वादा पूरा नहीं किया”
संजय निषाद ने कहा कि बीजेपी और योगी आदित्‍यनाथ ने जो वायदा किया था वो अभी पूरा नहीं हुआ है. हमारे समाज में गलत संदेश चला गया. बीजेपी ने मंदिर और 370 के वायदे को पूरा किया, लेकिन निषादों से किया वायदा पूरा नहीं कर रही है. निषाद समाज को दुख पहुंचाकर सुख नहीं प्राप्‍त किया जा सकता है. इन्‍हें सुखी रखकर इनके आरक्षण देकर ही निषादों का भला हो सकता है.

ये भी पढ़ें:

Happy Birthday Akhilesh Yadav: पढ़ें- यूपी के सबसे युवा सीएम से सपा अध्यक्ष तक का सफर

Uttar Pradesh News DGP: शामली के रहने वाले हैं डीजीपी मुकुल गोयल, जानिए उनके बारे में

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*