दुखों से पाना है निजात तो गुरुवार व्रत में भूलकर भी न करें ये काम

Guruvar Vrat Special: हिंदी पंचांग के हर दिनों का कोई न कोई महत्व होता है. यह दिन किसी  न किसी भगवान को समर्पित होता है. ज्योतिष शास्त्र की गणनाओं के अनुसार, जिस व्यक्ति की कुंडली में गुरु की स्थिति उत्तम होती है उस व्यक्ति के जीव में कभी कोई कष्ट नहीं आता है.  उसका जीवन सुखमय रहता है. गुरुवार व्रत से जीवन में सुख-सुविधाएं, धन-संपत्ति और प्रेम की वृद्धि होती है. परन्तु जब गुरु कमजोर होते हैं तो जीवन में हमें बहुत सारे कष्टों का सामना करना पड़ता है. इस लिए कभी भी गुरुवार व्रत के दिन ये कार्य भूलकर भी नहीं करना चाहिए.

Sawan Somwar 2021: कब से लगेगा सावन मास? जानें कितने हैं सावन सोमवार और क्यों है पूजा का इतना महत्व

गुरुवार व्रत में इन कार्यों भूलकर भी करें

  1. जो लोग गुरूवार का व्रत रख रहें हैं उन्हें गुरुवार व्रत के दिन किसी का जूठा भोजन आदि नहीं करना चाहिए.  ऐसे व्यक्ति को पूरे दिन फलाहारी या शाकाहारी भोजन करना चाहिए.
  2. गुरुवार के दिन बाल, दाढ़ी-मूंछ आदि नहीं बनवानी चाहिए और न ही सिर धोना, नाखून और बाल कटवाना चाहिए.इससे गुरु को हानि होती है. परिणाम स्वरूप व्यक्ति को धन की बहुत हानि उठानी पड़ सकती है.
  3. गुरुवार के दिन साबुन से या बिना साबुन के भी कपड़े और बाल नहीं धोने चाहिए. इससे लोगों को भारी नुकसान उठाना पड़ सकता है. मान्यता है कि ऐसा करने से संपत्ति और संपन्नता का अभाव होता है.
  4. गुरूवार व्रत के दिन घर की साफ-सफाई नहीं करनी चाहिए आर्थात इस दिन घर से कबाड़ निकालना, घर में पोछा लगाना और मकड़ी के जाले साफ करना वर्जित है.
  5. गुरुवार के दिन व्यक्ति को खिचड़ी और नमक का उपयोग नहीं करना चाहिए. इससे गुरु नाराज होते हैं.

ज्योतिषशास्त्र के मुताबिक, गुरुवार के दिन अगर हम उपर्युक्त वर्णित कार्यों में से किसी भी कार्य को करते हैं तो  व्यक्ति के जीवन में गुरु का प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है. इससे जीवन में दुखों का पहाड़ टूट पड़ेगा, इसीलिए हमें भूलवश भी इन कार्यों को नहीं करना चाहिए.

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*