जायडस कैडिला ने भारत में अपनी वैक्सीन जायकोव-डी के इमरजेंसी यूज की मांगी मंजूरी

नई दिल्लीः देश को जल्द ही कोरोना की एक और वैक्सीन मिलने की संभावना है. जायडस कैडिला ने अपनी कोरोना वैक्सीन जायकोव-डी (ZyCoV-D) के इमरजेंसी यूज की मंजूरी के लिए ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया के पास आवेदन किया है. यह वैक्सीन तीन डोज वाली होगी. कंपनी का दावा है कि ये वैक्सीन वयस्कों के साथ 12 से 18 साल के बच्चों को भी लगाई जा सकती है. अब तक देश में कोविशील्ड, को-वैक्सीन, स्पूतनिक और मॉडर्ना की वैक्सीन को मंजूरी दी जा चुकी है. 

जायडस कैडिला ने अपनी वैक्सीन के आपातकाल इस्तेमाल के लिए ड्रग कंट्रोलर के पास अप्लाई कर दिया है. कंपनी ने करीब 28 हजार लोगों पर ट्रायल पूरा करने के बाद इमर्जेंसी यूज ऑथराइजेशन यानी आपात इस्तेमाल की मंजूरी को लेकर डीसीजीआई को आवेदन दिया है. लगातार देश में वैक्सीनेशन की रफ्तार बढ़ाई जा रही है. ऐसे में एक और वैक्सीन मिलने से करोड़ों लोगों को फायदा हो सकता है. 

वैक्सीन की इन बातों के बारे में जान लीजिए 
– इस वैक्सीन को 12 से 18 साल के हजार बच्चों पर भी ट्रायल किया गया और सुरक्षित पाया गया है. इसकी एफिकेसी ये 66.6% है.
– तीन डोज वाली इस वैक्सीन को 4-4 हफ्तों के अंतराल पर लगाया जा सकता है. 
– इस वैक्सीन को 2-8 डिग्री तापमान पर स्टोर किया जा सकता है. 
– ये पहली plasmid डीएनए वैक्सीन है.
– इसमें इंजेक्शन का इस्तेमाल नहीं बल्कि ये वैक्सीन नीडल फ्री है. इसे जेट इंजेक्टर के ज़रिए दिया जा सकेगा. PharmaJet® एक सुई मुक्त ऐप्लिकेटर दर्द रहित इंट्राडर्मल वैक्सीन डिलीवरी सुनिश्चित करता है. 
– कंपनी की योजना सालाना 10-12 करोड़ डोज बनाने की है. 

ये है कंपनी का दावा 
कंपनी का दावा है कि प्लग एंड प्ले तकनीक जिस पर प्लास्मिड डीएनए प्लेटफॉर्म आधारित है, वह COVID-19 से निपटने के लिए आदर्श रूप से अनुकूल है क्योंकि इसे वायरस में म्युटेशन से निपटने के लिए आसानी से अनुकूलित किया जा सकता है.  भारत में अभी चार वैक्सीन आ चुकी हैं, जिसमें से तीन लोगों को दी जा रही हैं. जल्द ही मॉडर्ना की वैक्सीन आने की उम्मीद है. वहीं उम्मीद है की जल्द इस वैक्सीन को भी इमरजेंसी यूज़ की मंजूरी मिल जाएगी जिसके बाद भारत के पास कोरोना के खिलाफ एक और वैक्सीन होगी. 

यह भी पढ़ेंः नीतीश कुमार के मंत्री मदन साहनी ने इस्तीफे का एलान किया, कहा- चपरासी तक हमारी बात नहीं सुनते

Source link ABP Hindi


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*