Bastar News: नए साल पर घूमने का है प्लान तो आइए प्रकृति की गोद में बसे बस्तर

Bastar News: छत्तीसगढ़ का बस्तर अपने प्राकृतिक सौंदर्य के लिए पूरे देश में जाना जाता है. यहां की खूबसूरत जलप्रपातें, नैसर्गिक वन और कांगेर नेशनल पार्क समेत नैसर्गिक गुफाओं का नजारा देखते ही बनता है. अगर आप भी नए साल का जश्न मनाना चाहते हैं तो छत्तीसगढ़ के बस्तर में आपका स्वागत है. पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए जिला प्रशासन ने पर्यटन स्थलों को विकसित करने के साथ संसाधन भी बढ़ाये हैं. यही नहीं अब यहां पर्यटक रोमांचक एडवेंचर्स का भी लुत्फ उठा सकते हैं. ओमिक्रोन के खतरे को देखते हुए इन पर्यटन स्थलों में जिला प्रशासन ने काफी अच्छी व्यवस्था की है. कोरोना जांच के लिए स्वास्थ्य विभाग की टीम को मुस्तैद कराया गया है. भौगोलिक दृष्टिकोण से पर्यटन स्थलों का क्षेत्रफल काफी बड़ा होने से कोरोना संक्रमण फैलने का भी खतरा काफी कम है. अनलॉक के बाद से अब इन पर्यटन स्थलों पर बड़ी संख्या में सैलानी घूमने पहुंच रहे हैं. 

10 से भी अधिक खूबसूरत जलप्रपात, नैसर्गिक गुफाएं
 साल 2021 की विदाई और नए साल के आगमन को जश्न के रूप में मनाने के लिए इन दिनों बड़ी संख्या में पर्यटक बस्तर पहुंच रहे हैं. बस्तर में सबसे खूबसूरत जलप्रपात चित्रकोट को देखने देश-विदेश से पर्यटक पहुंच रहे हैं.  चित्रकोट जलप्रपात को देश में मिनी नियाग्रा के नाम से भी जाना जाता है. चित्रकोट के अलावा तीरथगढ़ जलप्रपात, तामढ़घूमर जलप्रपात मेन्द्रीघूमर, चित्रधारा, बीजाकासा और कांगेर जलधारा, मंडवा जैसे 10 से भी अधिक ऐसे जलप्रपाते हैं जिसकी खूबसूरती देखते ही बनती है. हर साल बड़ी संख्या में नए साल का जश्न मनाने पर्यटक पहुंचते हैं.

हालांकि कोरोना काल के कारण पिछले डेढ़ वर्षों से इन पर्यटन स्थलों को आम पर्यटकों के लिए बंद कर दिया गया था. लेकिन अनलॉक के बाद से ही इन पर्यटन स्थलों को जिला प्रशासन की तरफ से विकसित किए जाने के बाद एक बार फिर रौनक देखने को मिल रही है. प्रशासन ने संसाधन बढ़ाने के साथ पर्यटकों की सुविधा का ध्यान भी रखा है. नए कॉटेज का निर्माण, स्पोर्ट्स एडवेंचर की भी व्यवस्था प्रशासन ने की है. यही नहीं कोरोना के खतरे को देखते हुए बकायदा इन पर्यटन स्थलों में स्वास्थ्य विभाग की टीम भी तैनात की गई है. साथ ही स्थानीय समितियों के गाइड भी पर्यटकों का खास ध्यान रख रहे हैं. खास बात है कि बस्तर के पर्यटन स्थलों का भौगोलिक क्षेत्र काफी बड़ा है. ऐसे में काफी तादाद पर्यटकों की इन पर्यटन स्थलों पर घूम सकती है. यही नहीं अन्य राज्यों से भी पहुंच रहे पर्यटकों की मौजूदगी को देखते हुए बकायदा कोरोना के सभी नियमों का पालन कराया जा रहा है और पर्यटक भी प्रशासन की इस व्यवस्था से काफी खुश हैं. 

पर्यटन स्थलों में स्पोर्ट्स एडवेंचर्स की शुरुआत

नए साल का जश्न मनाने पहुंच रहे पर्यटक भी बस्तर के इन खूबसूरत पर्यटन स्थलों को देखकर आनंदित हो रहे हैं. पर्यटकों का कहना है कि बस्तर के पर्यटन स्थलों का नजारा देखते ही बन रहा है. जिस तरह से बस्तर के बारे में लोगों से सुना था उससे काफी अलग है. अब उन्हें इन पर्यटन स्थलों में घूमने से किसी तरह का कोई भय महसूस नहीं हो रहा है. प्रशासन की व्यवस्था से भी पर्यटक काफी खुश नजर आ रहे हैं. बस्तर कलेक्टर रजत बंसल का कहना है कि हर साल इन पर्यटन स्थलों में देश के कोने कोने से पर्यटक पहुंचते हैं. 2 वर्षों से लॉकडाउन के कारण इन पर्यटन स्थलों में रौनक नहीं थी, लेकिन अब बस्तर में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए इन पर्यटन स्थलों को विकसित भी किया गया है. साथ ही पर्यटकों की सुविधा का भी खास ख्याल रखा गया है. यही नहीं कोरोना के खतरे को देखते हुए भी पर्यटकों को किसी तरह की कोई दिक्कत ना हो इसकी भी तैयारी की गई है. 

Source link ABP Hindi