BJP का आरोप- शिवसेना नेता अनिल परब के इशारे पर हुई थी नारायण राणे की गिरफ्तारी

Narayan Rane News: केंद्रीय मंत्री नारायण राणे की महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के खिलाफ विवादित बयान को लेकर राजनीतिक हंगामा जारी है. इस बीच बीजेपी ने दावा किया है कि महाराष्ट्र के मंत्री और शिवसेना नेता अनिल परब के इशारे पर मंगलवार को राणे की गिरफ्तारी हुई थी.

बीजेपी विधायक आशीष शेलार ने कहा, ”नारायण राणे की गिरफ्तारी के पीछे अनिल परब का हाथ है. हम गिरफ्तारी और कार्रवाई की पूरी प्रक्रिया की जांच के लिए सीबीआई जांच की मांग करते हैं. महाराष्ट्र सरकार जन आशीर्वाद यात्रा से इतनी डरी क्यों है और ऐसा व्यवहार क्यों कर रही है?”

वहीं नारायण राणे के बेटे और भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नेता नितेश राणे ने अनिल परब का वीडियो साझा किया है. जिसमें कथित तौर पर शिवसेना नेता कह रहे हैं, ”आप लोग क्या कर रहे हैं? हिरासत में ले रहे हो या नहीं? आपको करना ही होगा.” 

नितेश राणे ने जो वीडियो साझा किया उसमें दिख रहा है कि अनिल परब प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान फोन उठाते हैं और बात कर रहे हैं. इस दौरान अनिल परब कथित तौर पर कहते हैं, “नमस्कार, आप लोग क्या कर रहे हैं? लेकिन आपको करना होगा. आपने उन्हें हिरासत में लिया है या नहीं?… वे किस आदेश की मांग कर रहे हैं? हाईकोर्ट और सेशन कोर्ट ने उनकी जमानत (आवेदन) खारिज कर दी है…  फिर पुलिस बल का उपयोग करें.”

बता दें कि केंद्रीय मंत्री राणे पिछले दिनों दावा किया था कि स्वतंत्रता दिवस के मौके पर अपने संबोधन में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे यह भूल गए कि देश की आजादी को कितने साल हुए हैं. उन्होंने कहा था, ‘‘अगर मैं वहां होता तो उन्हें एक जोरदार थप्पड़ मारता.’’ 

इस मामले में उन्हें मंगलवार को दिन में गिरफ्तार कर लिया गया था. हालांकि बाद में महाड की एक अदालत ने उन्हें देर रात उन्हें जमानत दे दी थी. जमानत मिलने के बाद केन्द्रीय सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्री राणे ने ट्वीट किया था, ‘‘ सत्यमेव जयते.’’ इस संबंध में उनके खिलाफ महाराष्ट्र में चार थानों में प्राथमिकी दर्ज की गई है. 

कैसे हुआ नारायण राणे और उद्धव ठाकरे के बीच 36 का आंकड़ा? पढ़ें इनसाइड स्टोरी

Source link ABP Hindi