Chhattisgarh News: सीएम भूपेश बघेल ने कालीचरण पर साधा निशाना, कहा- कालीचरण तो गालीचरण है

Chhattisgarh News: छत्तीसगढ़ में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के अपमान पर सियासत जारी है. कथित संत कालीचरण को कोर्ट ने दो दिन के लिए पुलिस रिमांड पर भेज दिया है. इधर कांग्रेस ने बापू के सम्मान पर आज दो घंटे तक गांधी भजन कर प्रदर्शन किया है. इसमें सीएम भूपेश बघेल समेत तमाम कांग्रेसी नेता मौजूद रहे. इस दौरान सीएम भूपेश बघेल ने गोडसे के विचार धारा पर आक्रामक और तीखी प्रतिक्रिया दी है.

कालीचरण तो गालीचरण है
सीएम भूपेश बघेल ने अपने संबोधन में कालीचरण को गालीचरण कहा है और नाथूराम गोडसे के विचारों को समर्थन करने वालो को जमकर कोसा है. सीएम ने कहा कि नाथूराम गोडसे और जिन्ना विभाजन के जिम्मेदार थे. उन्होंने कहा कि देश के विभाजन के नीव रखने वाले सावरकर है और विभाजन को हवा देने वाला जिन्ना है. जिन्ना भी नास्तिक थे और सावरकर नास्तिक थे. एक मुसलमानों का और हिंदू का नेता बन गए. रायपुर धर्म संसद पर सीएम भूपेश बघेल ने सवाल उठाते हुए बोले कि, धर्म संसद में धर्म की बाते होती हैं लेकिन यहां राष्ट्रपिता को अपमानित किया गया. शुरवात के दिन हमारे नेता भी शामिल हुए थे ये हमारी परंपरा है. लेकिन अचानक कालीचरण प्रकट हो गए और अनर्गल बाते करने लगे इसमें गोडसे की प्रशंसा किया गया. सीएम ने कहा की जिस समय महात्मा गांधी जीवित थे उस समय महा पुरषों ने गांधी जी लेकर जो कहा था ये लोग उसे भी नहीं मानते है.

बीजेपी नेता ने कल कालीचरण की रिहाई की उठाई थी मांग
छत्तीसगढ़ के वरिष्ठ बीजेपी नेता बृजमोहन अग्रवाल ने कालीचरण को रिलीज करने की मांग का समर्थन किया है. इससे पहले मध्यप्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने गिरफ्तारी की प्रक्रिया पर सवाल उठाया है. दूसरी तरफ छत्तीसगढ़ कांग्रेस ने बीजेपी को गोडसे से जोड़ते हुए कई सवाल उठाए हैं. कांग्रेस के प्रवक्ता आरपी सिंह ने कहा कि नरोत्तम मिश्रा का बयान इस बात को स्पष्ट करने के लिए पर्याप्त है कि पूरी बीजेपी महात्मा गांधी के हत्यारे गोडसे और महात्मा गांधी को गाली देने वाले के साथ खड़ी है.

 यह भी पढ़ें:

Omicron Death: देश में ओमिक्रोन से दूसरी मौत उदयपुर में, पोस्ट कोविड कॉम्प्लिकेशन की वजह से गई बुजुर्ग की गई जान

Corona in Delhi: दिल्ली एयरपोर्ट पर कोविड पॉजिटिव मिले यात्रियों के लिए बदल गए नियम, अब होटलों में होंगे क्वारंटीन

Source link ABP Hindi