Exclusive: गौतम गंभीर बोले- इंग्लैंड को उसके घर में हराना ICC ट्रॉफी जीतने से कम नहीं

एबीपी न्यूज़ के खेल संपादक जीएस विवेक ने दिल्ली के यमुना स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स में पूर्व भारतीय क्रिकेटर गौतम गंभीर से खास बातचीत की. बता दें कि गंभीर ने ही यमुना स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स को एडिलेड के मैदान जैसी शक्ल दी है. जीएस विवेक के साथ बातचीत में गंभीर ने कहा कि इसके पीछे कॉन्सेप्ट ये था कि इसे अपग्रेड करना है. ये सिर्फ क्रिकेट के लिए ही नहीं बल्कि आर्चरी (Archery) के लिए भी है. क्योंकि एक स्पोर्ट्समैन होने के नाते अब किसी से कुछ छीनते नहीं हो बल्कि देते हो. इसीलिए यहां फल्ड लाइट्स सजाई हैं. इनका उतना ही लक्स है, जितना वानखेड़े में. उम्मीद करता हूं कि बच्चे यहां खेल सके और अपना भविष्य बना सकें, और देश का नाम रोशन कर सकें. 

क्या आप क्रिकेट को मिस करते हैं? इसके जवाब में गंभीर ने कहा कि नहीं. मैं बिल्कुल भी क्रिकेट मिस नहीं करता हूं. जब से मैंने रिटायरमेंट ली है, तब से मैंने बैट भी नहीं पकड़ा है. अब मेरा काम है, लोगों को मौका देना, खुद खेलना नहीं. अगर बच्चे यहां आकर खेलेंगे और कुछ कर पाएंगे, देश का नाम रोशन कर पाएंगे, तो मुझे ज्यादा खुशी मिलेगी. 

गंभीर ने एबीपी न्यूज़ के दर्शकों को यमुना स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स की खासियत बताई और यहां के ड्रेसिंग रूम के बारे में भी बात की. इसके बाद उन्होंने संयुक्त अरब अमीरात और ओमान में होने वाले टी20 विश्व कप के बारे में भी बात की. 

गंभीर ने कहा कि भारत एक मज़बूत टीम है. और फेवरेट टीमों में से एक है. वेस्टइंडीज और इंग्लैंड भी मज़बूत टीम है. साथ ही ऑस्ट्रेलिया के पास भी कई मज़बूत खिलाड़ी हैं. वहीं भारत और पाकिस्तान के बीच मैच को लेकर गंभीर ने कहा, “ज्यादा अहम पाकिस्तान के साथ जीतना नहीं है, बल्कि ज्यादा अहम वर्ल्ड कप जीतना है. मीडिया ज्यादा हाइप क्रिएट करता है.”

विश्व कप जीतना ज्यादा अहम- गंभीर

उन्होंने आगे कहा, “जब आप वर्ल्ड कप खेलने जाते हैं तो लक्ष्य पाकिस्तान को हराना नहीं बल्कि विश्व कप जीतना होता है. कई बार लोग कहते हैं कि पाकिस्तान को हरा दो, चाहे वर्ल्ड कप जीतो या ना जीतो. लेकिन कोई भी खिलाड़ी या कोई भी कप्तान इस तरह से नहीं सोचता है, और न ही हमने कभी ऐसा सोचा. विराट कोहली और मौजूदा टीम भी ऐसा नहीं सोचेगी.”

यह पूछने पर कि क्या पाकिस्तान के खिलाफ भारत पर दबाव होगा? इसके जवाब में गंभीर ने कहा, “वर्ल्ड कप में हर टीम के खिलाफ प्रेशर रहेगा. अफगानिस्तान के खिलाफ भी दबाव रहेगा. उनके पास भी राशिद खान और मुजीब उर रहमान जैसे मैच विनिंग खिलाड़ी हैं. लेकिन हां, पाकिस्तान के खिलाफ पहला मैच भारत के लिए अच्छा है. क्योंकि जिसका हाइप ज्यादा है, वो मैच पहले ही हो जाएगा.” 

उन्होंने आगे कहा, “टी20 ऐसा फॉर्मेट है, जिसमें आप किसी को भी कम नहीं आंक सकते हैं, लेकिन यह भी सच है कि भारत इस मैच में फेवरेट रहेगा. हालांकि, उनके पास भी बाबर आजम और शाहीन शाह अफरीदी जैसे बेहतरीन खिलाड़ी हैं.”

आईपीएल से विश्व कप में फायदा मिलेगा- गंभीर

क्या भारतीय खिलाड़ी टी20 विश्व कप से पहले यूएई में आईपीएल 2021 का दूसरा चरण खेलेंगे. क्या टी20 विश्व कप में इससे टीम को फायदा मिलेगा. इस बारे में उन्होंने कहा, “कई लोग बोल रहे हैं कि पाकिस्तान को यूएई की कंडीशंस का एडवानटेज मिलेगा, लेकिन मेरा मानना है कि इंडिया को सबसे बड़ा एडवानटेज मिलेगा. क्योंकि भारतीय टीम के खिलाड़ी एक महीना वहां खेलेंगे, तो बिल्कुल इंडिया को टी20 विश्व कप में एडवानटेज मिलेगा.”

विराट के लिए शतक मायने नहीं रखता- गंभीर

भारत और इंग्लैंड के बीच जारी टेस्ट सीरीज़ के बारे में बात करते हुए गंभीर ने कहा, इंग्लैंड में टीम का सीरीज़ जीतना ज्यादा अहम है. विराट शतक बनाए या नहीं, ये मायने नहीं रखता है. मेरा मानना है कि उनके लिए शतक मायने नहीं रखता है. जीत ज्यादा जरूरी है. 

विराट कोहली की कप्तानी में अभी तक भारतीय टीम ने आईसीसी का कोई बड़ा इवेंट नहीं जीता है. क्या आपको ऐसा लगता है कि इस बार अगर भारत टी20 विश्व कप नहीं जीत पाता है तो कप्तानी में बदलाव होगा. क्योंकि रोहित शर्मा भी कप्तानी की दावेदार हैं. उन्होंने मुंबई इंडियंस के लिए कई ट्रॉफी जीती हैं. इस बारे में उन्होंने कहा, ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड में टेस्ट सीरीज़ जीतना भी आईसीसी ट्रॉफी जीतने से कम नहीं है. आईसीसी इवेंट में भले ही आप मेडल मिलते हैं, लेकिन ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड को उसके घर में हराना भी कोई छोटी बात नहीं है. 

Source link ABP Hindi