Farmers Protest: मुख्यमंत्री मनोहर लाल बोले- किसानों का समर्थन कांग्रेस कर रही

हरियाणा के मुख्य मंत्री मनोहर लाल खट्टर ने आज चंडीगढ में प्रेस कान्फ्रेंस की है. उन्होंने इस दौरान करनान के लाठीचारज पर बात करते हुए कहा कि किसान आंदोलन अब राजनितिक विष्य बना हुआ है. किसानों को समर्थन हरियाणा में कांग्रेस कर रही है. कुछ इलाके के कमयुनिसट लोग है जो लगे हुए है. जन समूह इनके पीछे खड़ा है ऐसा कुछ नहीं है. आज भी जो किसान है वो अपने खेतो में खुशी से काम कर रहा है. सिंघु व टिकरी बारडर पर आधे से जयादा पंजाब के लोग बैठे है हुए हैं.

खट्टर ने कहा कि कैपटन मेरा त्याग पत्र मांगने वाले कौन है. त्याग पत्र तो उनको देना चाहिए क्योकि सारे किसान अंदोलन का कारण वो बने हुए है. पंजाब का किसान दिल्ली के सिंघु बारडर व टिकरी बारडर पर बैठे हैं. हरियाणा का किसान न तो सिंघु बारडर है और ना ही टिकरी बारडर पर है. सारे किसान अंदोलन का कारण वहीं बने हुए हैं. हरियाणा में जथेबंदीयो का कोई असर नहीं है. ये जो है एक दुसरे से गले मिले हुए है ये सब हमको पता है कोन क्या है और कोन क्या कर रहा है. भुपेंदर हुडा भी किसानों का समर्थन कर रहे हैं.

लोकतंत्र में किसी को रोकने का कोई हक नही है- खट्टर

उन्होंने आगे कहा कि, हरियाणा का किसान खुश है और जो व्यवसथाए किसानों को हम दे सकते हैं वो दे रहे हैं. जिसने नहीं मानना उसने नहीं मानना. लोकतंत्र में किसी को रोकने का कोई हक नही है. खट्टर ने कहा कि हमारी सरकार ने सिंघु बाऱडर पर हर व्यवसथा दी है चाहे वो सफाई की वयवसथा हो या फिर बिजली की वयवसथा हो व पानी की वयवसथा हो हर सुविधा हमारी सरकार ने वहां दी है. बात करने के लिए केंद्र सरकार हमेशा किसानों को बुलाती है पर किसान कह रहे है कि पहले तीन कानून वापस लो फिर हम बात करेंगे.

शर्तों पर मीटिंग हो ऐसा नहीं हो सकता- खट्टर

शर्तों पर मीटिंग हो सरकार की किसानों के साथ एसा नहीं हो सकता. खेती कानूनों की शुरूआत कांग्रेस ने ही की है. पर अब कांग्रेस विपक्ष में है इस लिए वो चाहती है कि सतापक्ष के खिलाफ कुछ भी बोले जाओ. कांग्रेस के वीडीयो सबूत है संसद में वो लाना चाहते थे खेती कानून. हरियाणा के मुख्य मंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि बीजेपी और जेजेपी का गठबधंन ठीक चल रहा है. दोनों पारटीयों के मैनीफैसटो की बाते पूरी की जा रही है. नाम चाहे दो अलग-अलग है पर सरकार एक है.

करनाल में हुए लाठीचारज पर खट्टर ने कहा कि किसानों से बात करेंगे. ये घटना नहीं होनी चाहिए थी. एसडीएम के वीडीयो पर बोले खट्टर कि ये जो आडीयो वीडीयो सामने आया है वो किसी और जगह का वीडीयो है. बसताड़ा टोल पलाजा पर अलग डीएम था और वहा पर अलग डीएम था.

यह भी पढ़ें.

Harish Rawat के एक बयान ने मचा दी खलबली! पंजाब कांग्रेस प्रदेश प्रभारी के पद से होना चाहते हैं मुक्त

सिद्धू के सलाहकार मालविंदर ने दिया इस्तीफा, कश्मीर और इंदिरा गांधी पर दिया था विवादित बयान

Source link ABP Hindi