Moradabad: दर्जा प्राप्त मंत्री के ड्राइवर की संदिग्ध हालत में मौत, पंखे से लटकी मिली लाश

Moradabad News: मुरादाबाद के थाना मझौला इलाके में उस वक्त हड़कंप मच गया जब उत्तर प्रदेश खादी ग्राम उद्योग के उपाध्यक्ष व दर्जा प्राप्त मंत्री गोपाल अंजान (Atul Anjan) के ड्राइवर की लाश पंखे से लटकी मिली. सूचना मिलते ही थाना मझोला पुलिस सर्किट हाउस पहुंच गई. पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया है. फिलहाल मामले की जांच की जा रही है. पुलिस ने मृतक की पहचान कर ली है.

मंत्री गोपाल अंजान के ड्राइवर की लाश दिल्ली रोड पर स्थित सर्किट हाउस के एक कमरे में मिली है. गोपाल अंजान के नाम में दर्ज कमरा नंबर 7 में ये लाश पंखे से लटकी मिली है. लाश की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची. बताया जा रहा है कि लाश लगभग दो दिनों से पंखे से लटकी हुई थी. क्योंकि शव से काफी बदबू आ रही थी. पुलिस ने जब शव को उतारकर तलाशी ली तो उसकी जेब से लवकुश शुक्ला नाम के व्यक्ति का पहचान पत्र बरामद हुआ. लवकुश शुक्ला उत्तर प्रदेश के सीतापुर का रहने वाला था और खादी ग्राम उद्योग के उपाध्यक्ष गोपाल अंजान की सरकारी कर कार का चालक था. पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज कर छानबीन शुरू कर दी है.

इसी कमरे में रुकते हैं गोपाल अंजान
खबर के मुताबिक, गोपाल अंजान जब भी मुरादाबाद आते हैं तो इसी कमरे में रुकते हैं. उनकी अनुपस्थिति में कमरे की चाभी उनके स्टफ के पास ही रहती है. गोपाल अंजान का सरकारी वाहन चालक लवकुश शुक्ला इस कमरे में रह रहा था. सर्किट हाउस के स्टाफ का कहना है कि उन्हें नहीं पता कि लव कुश कब कमरे में गया और कब उसकी मौत हुई. फिलहाल मुरादाबाद पुलिस ने संदिग्ध परिस्थिति में मिले शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और जांच शुरू कर दी है. खादी ग्राम उद्योग के उपाध्यक्ष गोपाल अंजान मुरादाबाद से बाहर हैं.

मुरादाबाद के नगर पुलिस अधीक्षक अमित आनंद के मुताबिक पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही लवकुश की मौत के कारण का पता चलेगा.

ये भी पढ़ें:

Clash in BHU: देर रात छात्रों के दो गुटों के बीच झड़प, जमकर हुई पत्थरबाजी, फोर्स तैनात

President In UP: छात्रों से बोले राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, ‘जॉब सीकर के बजाय जॉब क्रिएटर बनें’

Source link ABP Hindi