MSP में हुई बढ़ोतरी पर सचिन पायलट का निशाना, कहा- ये किसान के जख्मों पर नमक रगड़ने जैसा है

MSP Hike: राजस्थान के पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने केंद्र सरकार द्वारा न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) में बढ़ोतरी को नाममात्र करार देते हुए बुधवार को इसे किसान की मेहनत के साथ ‘मजाक’ बताया. पायलट ने ट्वीट किया, ‘‘केंद्र सरकार द्वारा एमएसपी में नाममात्र बढ़ोतरी, खेती और किसान की मेहनत के साथ क्रूर मजाक है.’’

सचिन पायलट ने लिखा, ‘‘ये मामूली वृद्धि किसान के जख्मों पर नमक रगड़ने जैसा है, क्योंकि खाद-बीज-तेल की कीमतें बेलगाम होकर किसान का जीवन मुश्किल कर रही है.’’ उन्होंने कहा कि बीजेपी सरकार किसान की भावनाओं से छल बंद करे.

गौरतलब है कि सरकार ने बुधवार को चालू फसल वर्ष 2021-22 के लिए गेहूं का न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) 40 रुपये बढ़ाकर 2,015 रुपये प्रति क्विंटल कर दिया. इसके अलावा सरसों का एमएसपी 400 रुपये बढ़ाकर 5,050 रुपये प्रति क्विंटल किया गया है.

वहीं, कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने भी ट्वीट करते हुए एमएसपी की बढ़ोत्तरी को देश के किसानों के साथ धोखा बताया है. उन्होंने ट्वीट करते हुए इसे ऊंट के मुंह में जीरा बताया है. उन्होंने जानकारी देते हुए बताया है कि गन्ना में 285 से 290 रुपए की बढ़त के साथ 1.75 फीसदी, गेंहु में 1975 से 2015 रुपए की बढ़त के साथ 2 फीसदी, सूरजमुखी में 5327 से 5441 रुपए की बढ़त के साथ 2.14 फीसदी, जौ में 1600 से 1635 रुपए की बढ़त के साथ 2.18 फीसदी, चना में 5100 से 5230 रुपए की बढ़त के साथ 2.55 फीसदी, मसूर में 5100 से 5500 रुपए की बढ़त के साथ 7.85 फीसदी और सरसों में 4650 से 5050 की बढ़त के साथ 8.6 फीसदी की मामूली बढ़ोत्तरी की गई है.

इसे भी पढ़ेंः

West Bengal News: केंद्रीय गृह मंत्रालय का बंगाल सरकार को पत्र, 61 BJP नेताओं की लिस्ट देकर कहा- इनकी सुरक्षा सुनिश्चित करें

Assam Boat Collision: असम में ब्रह्मपुत्र नदी में दो नाव के बीच टक्कर, 50 लोगों को रेस्क्यू किया गया लेकिन 70 अभी लापता

यह भी देखेंः

Source link ABP Hindi