Weight Loss: वजन कम करने में क्या सौंफ पानी का इस्तेमाल करता है असर? जानिए

Weight Loss: आपके खाने पीने का असर आपकी सेहत और वजन पर पड़ता है. आप जो कुछ खाते हैं, उसके बारे में हमेशा सजग रहने को कहा जाता है क्योंकि आपका हर निवाला महत्व रखता है. जहां तक बात वजन कम करने की है, तो उतना आसान हीं है. कई लोगों को ठीक उसी तरह संघर्ष करना पड़ सकता है जैसा कि नियमित हेल्दी डाइट को बनाए रखना और व्यायाम करना. हालांकि, हेल्दी डाइट और वर्कआउट की कोई जगह नहीं ले सकता, लेकिन कुछ आसान इलाज वजन कम करने की यात्रा को तेज कर सकते हैं. ऐसा ही एक साधारण उपाय है सौंफ का पानी. सौंफ आम तौर से पाचन और माउथ फ्रेशनर के तौर पर भोजन खाने के बाद इस्तेमाल किया जाता है, लेकिन उसे सिर्फ दिन के किसी भी समय अकेले भी खाया जा सकता है. उसका इस्तेमाल अस्थमा, पेट का गैस और अपच समेत कई समस्याओं को काबू करने की क्षमता के लिए भी किया जाता है.  

क्या सौंफ वजन कम करने में आपकी मदद कर सकता है? 
सौंफ फाइबर, एंटीऑक्सीडेंट्स और मिनरल्स का भरपूर स्रोत है, ये सभी फैट को बर्न करने में मदद करते हैं और इस तरह वजन कम करने में सहायता करता है. सौंफ फूड के पोषक तत्वों का अवशोषण बढ़ाकर पाचन और मेटाबोलिज्म में सहायता करता है. सुबह में सौंफ पानी का एक ग्लास आपको देर तक भरा रखता है और ज्यादा खाने से रोकता है. ज्यादा खाना वजन कम करने की यात्रा में सबसे बड़ी रुकावट है.

वजन में कमी लाने के लिए सौंफ के सेवन का तरीका
एक चम्मच सौंफ लें और एक ग्लास पानी में रात भर उसे भिगोएं. सुबह में सबसे पहले इस पानी को पी जाएं. आप चाहे तो सौंफ की चाय का इस्तेमाल भी कर सकते हैं. इसके अलावा, सौंफ इन तरीकों से भी वजन कम करने में सहायता कर सकता है. 

मेटाबोलिज्म बढ़ाता है- आपका मेटाबोलिज्म फैसला करता है कि किस दर से आपके सेल्स ऊर्जा का इस्तेमाल करते हैं. सौंफ मेटाबोलिज्म को तेज करने में मदद कर सकता है, विशेषकर जब खाली पेट सेवन किया जाए. 

भूख को दबाता है- फाइबर में अधिक होने के चलते सौंफ आपको देर तक भरा रखता है और ज्यादा खाने नहीं देता. जब आप भरे होंगे, तो आपके गैर सेहतमंद खाने की संभावना कम होगी, जो वजन कम करने में सहायता करेगा. 

पोषक तत्वों में भरपूर- जिंक, फॉस्फोरस, सेलेनियम और मैग्नीज जैसे एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर होता है. एंटीऑक्सीडेंट्स फ्री रेडिकल्स से शरीर की सुरक्षा करने के लिए जाने जाते हैं. फ्री रेडिकल्स से शरीर में ऑक्सीडेटिव तनाव हो सकता है, जिससे मोटापा और कई बीमारियां हो सकती है. 

पाचन में सहायता करता है- सौंफ में मौजूद एस्ट्रागोल, फेनचोन और एनेथोल गैस्ट्रिक जूस के उत्पादन को बढ़ाकर पाचन में मदद करते हैं. जैसा कि हम सब जानते हैं, हेल्दी पाचन ठीक तरीके से वजन कम करने की बुनियाद है.

Health Tips Migraine Problem: माइग्रेन की समस्या से जूझ रहें हैं तो यह उपाय हो सकतें हैं कारगर

Kitchen Hacks: सब्जी में नमक या मिर्च हो जाए तेज, तो ट्राई करें ये ट्रिक्स

Check out below Health Tools-
Calculate Your Body Mass Index ( BMI )

Calculate The Age Through Age Calculator

Source link ABP Hindi