West Bengal Post Poll Violence: चुनाव बाद हिंसा मामले में सीबीआई ने दर्ज किए 10 और मामले

बंगाल: विधानसभा चुनाव के बाद हुई हिंसा के दौरान हत्या और बलात्कार के मामलों में सीबीआई ने पिछले 24 घंटों के दौरान 10 और मुकदमे दर्ज किए हैं. सीबीआई के दर्ज मुकदमों की संख्या 21 हो गई है. साथ ही सीबीआई ने चतरा पुलिस थाने के अंतर्गत दर्ज हत्या के मामले में दो आरोपियों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है.

सीबीआई के एक अधिकारी ने बताया कि पश्चिम बंगाल में हिंसा के बाद हुई घटनाओं को लेकर लगातार मुकदमे दर्ज करने का काम जारी है. अभी तक इस मामले में शुक्रवार तक 11 मुकदमे दर्ज किए गए थे लेकिन उसके अगले 24 घंटों में यानी शनिवार की सुबह तक इस मामले में कोई 10 और मुकदमे दर्ज किए गए जिससे मुकदमों की संख्या बढ़कर 21 हो गई है.

सीबीआई की 4 विशेष टीमें बनाई गई

ध्यान रहे कि सीबीआई ने इन मामलों की जांच के लिए अपनी 4 विशेष टीमें बनाई हैं प्रत्येक टीम में 25 अधिकारी और कर्मचारी शामिल हैं. इसके अलावा कोलकाता में स्थित सीबीआई की स्थानीय डिवीजन के अधिकारी भी इस जांच में सहयोग कर रहे हैं. अभी तक जितनी भी एफआईआर दर्ज की गई है उन सभी पर सीबीआई के डीआईजी अखिलेश कुमार सिंह के हस्ताक्षर हैं.

प्राप्त जानकारी के मुताबिक सीबीआई ने जो एफआईआर दर्ज की हैं उनमें से कुछ में शिकायतकर्ता ने स्पष्ट तौर पर कहा है कि उनके ऊपर हमला टीएमसी यानी तृणमूल कांग्रेस के लोगों ने किया और इरादतन हत्या की गई. साथ ही कुछ एफआईआर में बताया गया है कि क्योंकि वह लोग बीजेपी के लिए काम करते थे तो पहले उन्हें डराया धमकाया गया कि वह बीजेपी छोड़कर टीएमसी में शामिल हो जाएं लेकिन जब एक युवक ने ऐसा करने से मना किया तो उसकी हत्या कर दी गई.

युवक की मां की तरफ से दर्ज एफआईआर में कहा गया है कि युवक ने हत्या होने के पहले अपनी मां को बताया था कि टीएमसी के कार्यकर्ताओं ने उससे कहा है कि उसकी लाश किसी जगह पानी में पाई जाएगी और लोग समझेंगे कि उसने आत्महत्या कर ली है. इसके बाद हुआ भी यही उक्त युवक की लाश पानी में ही पाई गई.

हिरासत में लिए गए आरोपियों की हो सकती है गिरफ्तारी

प्राप्त जानकारी के मुताबिक चतरा पुलिस थाने में दर्ज हत्या के एक मामले में दो आरोपियों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है. सूत्रों के मुताबिक इन दोनों की देर शाम तक गिरफ्तारी भी की जा सकती है. ध्यान रहे कि पश्चिम बंगाल में चुनाव के बाद हुई हिंसा के दौरान हत्या और बलात्कार के मामलों की जांच कोलकाता हाईकोर्ट ने केंद्रीय जांच ब्यूरो को सौंपी थी और 6 सप्ताह के भीतर पूरे मामले पर अपनी रिपोर्ट हाईकोर्ट को देने को कहा था.

इसके बाद सीबीआई मुख्यालय ने इस मामले में चार विशेष टीमें गठित कर जांच शुरू की थी. सूत्रों का कहना है की अगले कुछ हफ्तों के दौरान हाईकोर्ट में रिपोर्ट सौंपी जानी है लिहाजा मामले की जांच तेज गति से की जा रही है. आने वाले दिनों में इन मामलों में अनेक लोगों की गिरफ्तारियां हो सकती हैं. मामले की जांच जारी है.

यह भी पढ़ें.

तमिलनाडु विधानसभा में कृषि कानूनों के खिलाफ प्रस्ताव पारित, स्टालिन बोले- किसानों पर दर्ज मामले वापस होंगे

Chennai: भारतीय तटरक्षक बल के समारोह में पहुंचे राजनाथ सिंह, निगरानी पोत ‘विग्रह’ को सेवा में करेंगे शामिल

Source link ABP Hindi