Yoga For Fertility: क्या फर्टिलिटी के मामले में योग हो सकता है मददगार? जानिए

Yoga For Fertility: ममता का सुख हासिल करना जिंदगी के सबसे सुनहरे पलों में से एक है. लेकिन हर किसी को ऐसे अनुभव का मौका नहीं मिलता. तनावपूर्ण जिंदगी, व्यस्त कामों की सूची और खानपान की खराब आदतों ने कई लोगों के स्वास्थ्य को प्रभावित किया है. उसके नतीजे में लोगों को प्रजनन क्षमता से संबंधित मुद्दों का सामना करना पड़ रहा है. 

रिसर्च के मुताबिक, गर्भधारण की कोशिश में हेल्दी लाइफस्टाइल को बनाए रखना बेहद महत्वपूर्ण है. हेल्दी लाइफस्टाइल में फिट होना तो और भी ज्यादा अहम क्योंकि ये स्टैमिना को बरकरार करने में मदद करता है और ऊर्जा लेवल बढ़ाता है. प्रेगनेन्ट होने की कोशिश में व्यायाम फायदेमंद हो सकता है. अधिक वजह होने पर निर्धारित डाइट के साथ समझदार व्यायाम कार्यक्रम का मिश्रण गर्भधारण करने में आपकी मदद कर सकता है. योग का आसन आपके शरीर और दिमाग को एक मेहमाननवाज और शांत शरीर विकसित करके प्रसव के लिए तैयार करता है. योगाभ्यास सकारात्मकता को बढ़ावा देता है जब आप प्रजनन संबंधी मुद्दों से जूझ रहे होते हैं. 

योग कैसे प्रजनन को बढ़ाता है?

योग आसन के कई फायदे हैं. हालांकि, प्रजनन से जुड़े मामलों में ये कई तरीकों से मदद कर सकता है, जिसे फिटनेस कोच और न्यूट्रिशनिस्ट हस्ती सिंह ने शेयर किया है. उनका दावा है कि योग के अभ्यास सकारात्मकता को बढ़ावा देते हैं.

योग के अभ्यास यूटेरस और ओवरी को उत्तेजित करते हैं. 

योग के व्यायाम पीठ के मसल को मजबूती प्रदान करते हैं.

जहरीले पदार्थों को निकालकर शरीर को डिटॉक्सीफाई करता है.

योगाभ्यास कमर और कूल्हों का लचीलापन उपलब्ध कराता है. 

ये गर्दन की मसल्स को मजबूत और रीढ़ को अधिक लचीला बनाता है. 

प्रजनन अंगों को ज्यादा ब्लड की आपूर्ति होती है. 

ये मूड को सुधारता है और डिप्रेशन, तनाव और मूड में बदलाव को कम करता है. 

योग के अभ्यास सरल और सेफ डिलीवरी को सुनिश्चित कराते हैं. 

Kitchen Hacks: पंजाबी आलू टिक्की कैसे बनाएं, ये है ऑयल फ्री कटलेट रेसिपी

Kitchen Hacks: हींग में मिलावट की ऐसे करें पहचान, जानिए आप असली हींग खा रहे हैं या नकली

Source link ABP Hindi